Breaking News

स्टडी: छोटे बच्चों में ऐसे डालें किताबें पढ़ने की आदत


छोटे बच्चों को अच्छे संस्कारों की जरूरत होती है। हमारे बच्चे हमारा ही प्रतिबिम्ब होते हैं जो हमें कहते करते और हुए देखते हैं वे  खुद भी वहीं करते हैं। उनके सामने किताबें पढ़ें जो बच्चे अपने माता पिता को पढ़ते देखते हैं वो उसी से प्रेरणा लेते हैं और किताबों की तरफ अपनी रूचि दिखाते हैं। हर बच्चा वैसे तो अलग होता है और हर बच्चे की पसंद भी अलग होती है

ऐसे डालें आदत:

# चित्रों वाली किताब: बच्चे, ख़ास तौर से छोटे बच्चे, पढ़ना नहीं जानते वो चित्र देख कर ही कहानी का अंदाज़ा लगते हैं। इसलिए रंग बिरंगी चित्रों वाली किताबें उन्हें बहुत आकर्षित करती हैं।

# समय: यूँ तो किताबें दिन के किसी भी समय और कितनी भी बार पढ़ी जा सकती हैं, पर एक समय तय कर लें। जैसे रात में सोने के समय। इससे आदत पड़ती है.

# सवाल जवाब: कहानी पढ़ते हुए या चित्र दिखाते हुए बच्चों से प्रश्न ज़रूर करें। इससे उनका रुझान बना रहेगा और जिज्ञासा भी बढ़ेगी। सम्मिलित तरह से किताबों को पढ़ने से बच्चों को मज़ा भी आता है।

# अनेक तरह की आवाज़ें: कहानी पढ़ने और सुनाने को रोचक बनाने के लिए अगर थोड़ा ड्रामा करना पड़े या अलग अलग आवाज़ें निकालनी पड़ें तो पीछे न हटें। ऐसा करने से बच्चे कहानी सुनने में और मज़े लेंगे।

# निजी ज़िन्दगी: यदि कहानी में कोई दादी है तो बच्चे को अपनी दादी याद दिलाएं। यदि कोई ऐसा जानवर चित्र में दिखे जिसे बच्चे ने पहले देखा है, तो उसे याद दिलाएं।

No comments