Breaking News

ये होती है असली हिम्मत, मलबे में फंसे शख्स ने परिवार को सेल्फी भेजकर बताया- 'मैं जिंदा हूं'


हिम्मत क्या होती है आप इस तस्वीर को देखकर ही अंदाजा लगा सकते हैं। एक शख्स ने अपनी जिंदा होने की खबर सेल्फी लेकर परिवार को भेजी। दिलचस्प बात तो ये है कि जब इस शख्स ने सेल्फी ली उस दौरान वह मलबे में दबा हुआ था।

तस्वीर है मंजूनाथ यावागल की, जो कर्नाटक के धारवाड़ में निर्माणाधीन बहुमंजिला इमारत के ढह जाने के बाद मलबे में फंस गए। हालांकि- उन्हें 9 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद जिंदा निकाल लिया गया।

छपी एक खबर के मुताबिक, मंजूनाथ अपने फोन से परिवार को अपने ठीक होने की जानकारी दी। जब उन्होंने फोन करके परिवार को अपने सकुशल होने की जानकारी दी तो किसी को भी यकीन नहीं हुआ। उनकी मां तो रोने लगीं। फोन पर मां को रोता हुआ सुन उन्होंने तुरंत अपनी सेल्फी लेकर भेजी। तब परिवार को भरोसा हुआ कि वह ठीक हैं। मंजूनाथ की यह सेल्फी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। उन्होंने बताया कि उन्हें बचाने के में रेस्क्यू टीम को 9 घंटे लगे। इसमें 12 लोग लगे हुए थे।

बता दें कि कर्नाटक के धारवाड़ जिले में जमींदोज हुई एक निर्माणाधीन इमारत के मलबे से ला'शों को निकालने का काम अब भी जारी है। हाद'से में अब तक 16 लोगों की मौ'त हो चुकी है।

No comments