Breaking News

बेटे से बंद कमरे में मिले पिता, सिर पर हाथ रखकर दिया आशीर्वाद


बेटा कांग्रेस का टिकट लेकर घर तो पहुंचा लेकिन पिता ने खुले तौर पर अपने बेटे का न तो स्वागत किया और न ही खुले में उससे कोई मुलाकात की। बात हो रही है आश्रय शर्मा और उनके पिता अनिल शर्मा की। मंगलवार को आश्रय शर्मा कांग्रेस पार्टी का टिकट लेकर पहली बार अपने घर पहुंचे। मंडी शहर के समखेतर वार्ड स्थित घर पर अनिल शर्मा पहले से मौजूद थे लेकिन जब पिता और पुत्र घर पहुंचे तो अनिल शर्मा इनके स्वागत के लिए कमरे से बाहर नहीं निकले। पहले पंडित सुखराम घर के अंदर गए और कुछ देर बार आश्रय शर्मा अपने समर्थकों के साथ घर पर पहुंचे। आश्रय शर्मा ने उपरी वाली मंजिल पर जाकर अपने पिता अनिल शर्मा से मुलाकात की और उनका आशीर्वाद लिया।

आश्रय ने मीडिया के सामने की मुलाकात की पुष्टि: इसके बाद आश्रय ने मीडिया के समक्ष आकर पिता के साथ हुई मुलाकात की पुष्टि की। उन्होंने बताया कि उन्होंने अपने पिता के पांव छुए और उनके पिता ने उनके सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद दिया। उन्होंने कहा कि उन्हें अपने दादा और पिता दोनों का आशीर्वाद मिला है। उन्होंने स्पष्ट किया कि पिता के दूसरे राजनीतिक दल में होने के कारण खुले तौर पर उनसे नहीं मिल सकते, इसलिए उन्होंने उनके कमरे में जाकर मुलाकात की है। उन्होंने कहा कि पिता का आशीर्वाद हमेशा उनके साथ है और अब वह पूरे जोश के साथ मैदान में उतरेंगे और जीत का पताका फहराएंगे।

भाजपा सरकार के मंत्री का घर कांग्रेस समर्थकों से घिरा: वहीं इस घर में ऐसा पहली बार हुआ कि भाजपा सरकार के मंत्री का घर कांग्रेस समर्थकों से घिरा हुआ नजर आया। घर की दीवारों पर भाजपा के पोस्टर भी नजर आए और साथ ही कांग्रेस समर्थक भी दिखाई दिए। अनिल शर्मा ने भाजपा छोडऩे से साफ इंकार कर दिया है और ऐसे में इन चुनावों में इस घर पर अब ऐसा ही माहौल देखने को मिलेगा।

No comments