Breaking News

वीरभद्र बोले- मैं सुखराम को कभी माफ नहीं करूंगा


पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह ने कहा है कि वह कभी सुखराम को माफ नहीं करेंगे। अलग से पार्टी बनाकर सुखराम ने जो गलती की थी उसे वह कभी माफ नहीं कर सकते हैं। यह बात वीरभद्र सिंह ने मंडी जिला के चैलचौक में आयोजित एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कही। वीरभद्र सिंह ने यह भी माना कि सुखराम ने लोकसभा चुनावों में कई बार उनका साथ दिया और उनकी मदद की, लेकिन अलग से पार्टी बनाकर सुखराम ने बहुत बड़ी गलती की थी। इसके साथ ही उन्होंने मंच पर अपने संबोधन के दौरान आश्रय शर्मा को बुलाया और उसे अपना आशीवार्द दिया। वीरभद्र सिंह ने कहा कि आश्रय शर्मा एक युवा है और युवा सोच के साथ आगे बढ़ रहा है। उन्होंने सभी से आश्रय शर्मा को भारी मतों से विजयी बनाने का आहवान किया।

उन्होंने कहा कि आज पुरानी बातों को भुलाकर आगे बढ़ने की जरूरत है और सुखराम के लिए भी उनकी नजरों में पूरा मान-सम्मान है। बता दें कि आश्रय शर्मा के नामांकन वाले दिन पंडित सुखराम ने खुले मंच से वीरभद्र सिंह से माफी मांगी थी, लेकिन उस दिन वीरभद्र सिंह ने इसपर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी थी। आज उन्होंने खुले मंच से सुखराम के माफीनामे को नकार दिया। हालांकि उन्होंने आश्रय शर्मा के लिए वोट मांगे और उन्हें भारी मतों से जिताने का आहवान किया।

कांग्रेस प्रत्याशी आश्रय शर्मा ने वीरभद्र सिंह और पंडित सुखराम की जमकर तारीफ की और सांसद राम स्वरूप शर्मा पर तीखा पलटवार किया। उन्होंने कहा कि आज मंडी संसदीय क्षेत्र की जनता से सीएम के नाम पर वोट मांगकर गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा है। आश्रय शर्मा ने कहा कि संसद में चुनकर सांसद जाएगा न कि सीएम। उन्होंने कहा कि अगर सीएम संसद जाने को तैयार हैं तो वह आज ही अपना नामांकन पत्र वापिस लेने को तैयार हैं। आश्रय ने कहा कि सांसद के पास गिनाने को कुछ नहीं और यही कारण है कि सीएम को आगे रखकर वोट मांगे जा रहे हैं।

No comments