Breaking News

चेन्नई-मुंबई के पहले Qualifier में किसका पलड़ा है भारी, जानें ज़रूरी Stats


इंडियन प्रीमियर लीग सीज़न 12 में आज चेन्नई के एम.ए. चिदंबरम स्टेडियम (चेपॉक) में पहला क्वालिफायर खेला जाना है. महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स और रोहित शर्मा की मुंबई इंडियंस के बीच होने वाले इस मुकाबले के बाद सीज़न 12 के पहले फाइनलिस्ट की तस्वीर साफ हो जाएगी. इस सीज़न में दोनों ही टीमों ने 14 में से नौ मुकाबले जीतकर प्लेऑफ में जगह बनाई है. हालांकि लीग स्टेज के आखिरी मैच में मुंबई की जीत ने उसे अंकतालिका में सीधा पहले पायदान पर पहुंचा दिया.

किन खिलाड़ियों पर रहेगी नज़र

CSK: चेन्नई सुपर किंग्स में इस बार जिस खिलाड़ी पर सबकी निगाहें रहेंगी वो हैं कप्तान महेद्र सिंह धोनी. धोनी ही चेन्नई की ओर से इस सीज़न में टॉप स्कोरर हैं. उन्होंने 12 मैचों की नौ पारियों में 122 से ज्यादा की औसत के साथ 368 रन बनाए हैं. जिसमें तीन अर्धशतक भी शामिल हैं. इस सीज़न धोनी ने 21 चौके और 22 छक्के भी लगाए हैं. उनके अलावा सुरेश रैना और फाफ डू प्लेसिस भी टीम के लिए अहम हो सकते हैं.

गेंदबाज़ी में इमरान ताहिर चेन्नई के लिए तुरूप का इक्का साबित हो सकते हैं. इस सीज़न उन्होंने अब तक 14 मुकाबलों में 6.50 की इकोनॉमी के साथ 21 विकेट चटकाए हैं. उनके अलावा दीपक चहर भी चेन्नई के लीडिंग विकेट टेकर में से हैं. उन्होंने 14 मैचों में 16 विकेट अपने नाम किए हैं.

MI: मुंबई के ओपनर क्विंटन डीकॉक टीम के टॉप स्कोरर हैं. आईपीएल में रन बनाने के मामले में वो चौथे पायदान पर हैं. डिकॉक ने 14 मैचों में 492 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने 4 अर्धशतक भी जड़े हैं. उनके अलावा कप्तान रोहित शर्मा (386 रन) और ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या (380) भी मुंबई के लिए इस मुकाबले में बड़ी भूमिका निभा सकते हैं.

गेंदबाज़ी में जसप्रीत बुमराह 14 मैचों में 17 विकेट के साथ मुंबई के सबसे सफल गेंदबाज़ हैं. उनके अलावा लसिथ मलिंगा ने 10 मैचों में 15 विकेट अपने नाम किए हैं और हार्दिक पंड्या ने 14 विकेट चटकाए हैं. ये खिलाड़ी चेन्नई की जीत की राह में रोड़े अटका सकते हैं.

सीज़न 12 में कौन किस पर भारी?

आईपीएल 2019 में मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच दो मुकाबले खेले गए, लेकिन दोनों ही मुकाबलों में मुंबई चेन्नई की टीम पर भारी पड़ी है. पहली बार 3 अप्रैल को आईपीएल के 15वें मुकाबले में दोनों टीमें मुंबई के घरेलू मैदान वानखेड़े में एक दूसरे से भिड़ी थीं.

उस मुकाबले में मुंबई इंडियंस ने चेन्नई को 171 रनों का लक्ष्य दिया था. हालांकि चेन्नई की टीम 20 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर महज़ 133 रन ही बना पाई और उसे 37 रनों की करारी शिकस्त झेलनी पड़ी थी. इस मुकाबले में मुंबई के गेंदबाज़ों का जलवा रहा. हार्दिक पंड्या ने दो, लसिथ मलिंगा ने तीन और जेसन बेहरनडॉर्फ ने दो विकेट लेकर चेन्नई की बखिया उधेड़ दी थी.

दोनों टीमों का सीज़न का दूसरा मुकाबला चेन्नई के चेपॉक में खेला गया. धोनी के गढ़ में इस बार भी जीत रोहित शर्मा की हुई. इस बार मुंबई ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 4 विकेट खोकर बोर्ड पर 155 रन लगाए थे, लेकिन धोनी की गैर-मौजूदगी का असर ये हुआ की सुरेश रैना की अगुवाई में चेन्नई की पूरी टीम 17.4 ओवर में ही वापस पवेलियन में थी. इस बार मुकाबला 46 रनों से मुंबई के नाम रहा था. इस बार भी 4 विकेट लेकर सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज़ बने थे लसिथ मलिंगा.

‘चेपॉक’ को भेदना मुंबई के लिए कितना मुश्किल?

इस सीज़न में चेन्नई सुपर किंग्स ने एम.ए चिदंबरम स्टेडियम में कुल सात मुकाबले खेले, जिसमें से उन्हें एक में हार जबकि बाकि के छह मैचों में जीत मिली. इसके अलावा इस बात पर भी गौर करना चाहिए कि चेन्नई में सीएसके के खिलाफ मुंबई का रिकॉर्ड शानदार रहा है. अब तक खेले गए 13 मुकबालों में मुंबई इंडियंस आठ बार विजेता रही है. ऐसे में चेन्नई में मुंबई का पलड़ा भारी नज़र आ रहा है.

आमने-सामने की तस्वीर कैसी?

अब तक खेले गए टी-20 मुकाबलों में भी मुंबई इंडियंस, चेन्नई सुपर किंग्स पर भारी पड़ती नज़र आ रही है. दोनों टीमों के बीच अब तक 27 बार भिड़ंत हुई है, जिसमें से 15 मुकाबले मुंबई और 12 मुकाबले चेन्नई ने जीते हैं.

No comments