Breaking News

महादेव की भक्त है हिमाचल की यह बेटी, बर्फ के बीच नंगे पांव 35 किमी चढ़ाई की.. और पहुंच गई महादेव की शरण में


दुनिया की सबसे खतरनाक यात्राओं में शुमार पवित्र श्रीखंड महादेव के लिए कई श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। इस यात्रा के लिए श्रद्धालुओं को अपनी जान हथेली पर रखकर 8 दर्रे पार करते हुए अंतिम पड़ाव पर पहुंचना पड़ता है। लेकिन इससे कुछ हटकर आनी के बागीपुल की ईशानी ठाकुर ने कर दिखाया है। उसने नंगे पांव यात्रा पूरी की। इतना ही नहीं वह 3 साल से दुर्गम सफर तय कर रही है।



ईशानी ठाकुर ने बताया कि सच्चे मन से जाने वालों के लिए यात्रा बिल्कुल आसान है। बता दें कि श्रीखंड महादेव जाने की इच्छा रखने वाले बड़े-बड़े सूरमाओं के पसीने छूट जाते हैं और हौंसले पस्त हो जाते हैं। यहां तक कि सांसें भी उखड़ जाती है लेकिन 22 वर्ष की ईशानी तीन बार श्रीखंड महादेव कर चुकी है।

तीन बार नंगे पांव की श्रीखंड यात्रा

हैरानी की बात है वह तीन बार नंगे पांव दर्शन कर लौट आई है। ईशानी 13 जुलाई को घर से नंगे पांव निकली थी और 17 जुलाई को लौटी थी। करीब 11 घण्टे नंगे पांव बर्फ पर भी बिताए। पार्वती बाग से श्रीखंड तक 4 घंटे की सीधी चढ़ाई की और श्रीखंड में करीब 2 घंटे बिताए। उसने बताया कि वे 2017 में पहली बार यात्रा पर नंगे पांव निकली थी, जिसके बाद 2018 में भी उन्होंने यात्रा नंगे पांव ही पूरी की।

श्रीखण्ड यात्रा पर जाना मेरी कोई मन्नत नहीं है, बल्कि शिव भोले के प्रति एक ऐसा लगाव है। उसने अपनी जिंदगी से जुड़ी एक सच्चाई बताई। ईशानी ने कहा कि जब वह छोटी थी तो यात्रा पर हमारे घर के साथ से यात्रियों का गुजरते देख कर मन में विचार आता था कि मैं भी यात्रा पर जाऊं।


ढूँढिये अपने सही जीवनसंगी को अपने ही समुदाय में भारत मैट्रिमोनी पर - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

शुरू होने वाले मां नयना देवी के मेले, लेकिन मंडरा रहा बड़ा खतरा

No comments