Breaking News


इंग्लैंड के खिलाफ विश्व कप 2019 के 38 वें मैच में सबसे बड़ी गलती विकेटकीपर-बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी ने की, जिससे भारतीय टीम को नुकसान उठाना पड़ गया। जी हां, टॉस जीतकर इंग्लैंड बल्लेबाजी करने उतरी और शानदार शुरुआत की। लेकिन 11 वें ओवर में टीम इंडिया की तरफ से एक बड़ी चूक हुई।

दरअसल, 11 वां ओवर में हार्दिक पांड्या गेंदबाजी कर रहे थे। इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय सामने थे। इस ओवर की पांचवीं गेंद पर ऐसा हुआ जिसने बड़ी अपील की। मामला DRS का था, लेकिन टीम इंडिया ने DRS नहीं लिया और उसके कारण थे महेंद्र सिंह धोनी!

ऐसा हुआ कि 11 वें ओवर की पांचवीं गेंद पर जेसन रॉय आउट हुए लेकिन धोनी ने DRS लेने से इनकार कर दिया। दरअसल, पंड्या की गेंद ने जेसन रॉय के लेग साइड दस्ताने को छूते हुए धोनी के दस्ताने में समा गई। इसके बाद कोहली ने धोनी से DRS लेने के लिए कहा लेकिन धोनी ने मना कर दिया। अगर धोनी ने हा किया होता तो शायद भारत को पहली सफलता बड़े जल्दी मिल जाती।

सबसे सम्मानित विकेटकीपर बल्लेबाज धोनी भी यहां डीआरएस लेने से चूक गए। अगर टीम इंडिया ने DRS लिया तो जेसन रॉय बिल्कुल आउट थे। अल्ट्रा एज ने स्पष्ट रूप से देखा कि गेंद दस्ताने को छूती है। लेकिन धोनी यह भी नहीं समझ पाए कि विराट भी डीआरएस को बल लेने के लिए मजबूर करते थे। जब टीम इंडिया ने यह मौका गंवाया, तब मेजबान इंग्लैंड का स्कोर 60/0 था।

यह रहे भारतीय टीम के हार के प्रमुख कारण

केएल राहुल का बिना खाता खोले पवेलियन लौट जाना।
रोहित शर्मा का विकेट पर जमने के बाद भी कुछ खास कमाल ना कर पाना।
भारतीय स्पिनर द्वारा गेंद को टर्न ना करा पाना।
बेहद धीमी शुरुआत करना।
धोनी द्वारा डीआरएस नही लेना।
चहल का बहुत महंगा साबित हो जाना।
चेस मास्टर 'कोहली' का स्ट्राइक रेट कम रहना।

No comments