Breaking News

गर्भावस्था में घर शिफ्ट करने से बच्चे को खतरा


पुलिसनामा ऑनलाइन – 37 फीसदी बच्चों का वजन सामान्य से कम होता है, जन्म के समय अगर मां गर्भावस्था में घर शिफ्ट करती हैं तो गर्भावस्था के दौरान काफी सावधानी बरतने की जरूरत होती है।एक हालिया शोध में पता चला है कि जो गर्भवती महिलाएं गर्भावस्था के पहले 3 महीनों में घर शिफ्ट करती हैं उनसे पैदा होने वाले बच्चों को कई तरह की परेशानियां हो सकती हैं।

शोधकर्ताओं के अनुसार ऐसी गर्भवती महिलाओं से पैदा होने वाले 37 फीसदी बच्चों का वजन सामान्य से कम होता है।वहीं, ऐसी गर्भवती महिलाओं में समय से पूर्व प्रसव होने का खतरा 42 फीसदी तक ज्यादा होता है।इन आंकड़ों को जुटाने के लिए शोधकर्ताओं ने ऐसी गर्भवती महिलाओं की तुलना उन गर्भवती महिलाओं से की है जो गर्भावस्थ के दौरान अपना घर शिफ्ट नहीं करतीं.

घर शिफ्ट करने में होता है तनाव
समय से पूर्व पैदा होने वाले और कम वजन वाले बच्चों को बाद में चलकर काफी स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ता है।वाशिंग्टन यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर का कहना है कि घर शिफ्ट होने के दौरान होने वाला तनाव, शारीरिक मेहनत और स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही बच्चों पर पड़ने वाले बुरे असर का सबसे बड़ा कारण हो सकता है।उन्होंने कहा हमारे शोध से पता चलता है कि गर्भावस्था के दौरान घर शिफ्ट करने से मां और बच्चे पर बुरा असर पड़ता है।डॉक्टरों को चाहिए कि गर्भवती महिलाओं को सलाह दे गर्भावस्था के दौरान घर शिफ्ट करने की न सोचें क्योंकि इससे होने वाला तनाव और लापरवाही बच्चे के लिए बहुत घातक सिद्ध हो सकती है।




जर्नल ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड कम्युनिटी हेल्थ में प्रकाशित शोध में गर्भावस्था के दौरान घर शिफ्ट करने वाली महिलाओं से जन्मे 30000 बच्चों और घर न शिफ्ट करने वाली गर्भवती महिलाओं से पैदा हुए 1.2 लाख बच्चों पर अध्ययन किया गया।

गरीब थीं महिलाएं
शोध में पाया गया कि गर्भावस्था के दौरान घर शिफ्ट करने वाली ज्यादातर महिलाएं युवा थीं, कम पढ़ी-लिखी थीं और गरीब थीं।इनेमं से ज्यादातर महिलाएं शादीशुदा नहीं थीं और गर्भावस्था के दौरान सिगरेट भी पीती थी।
शोधकर्ताओं की टीम ने इन सभी कारकों को ध्यान में रखकर अध्ययन किया तो पता चला कि ऐसी महिलाओं से जन्में बच्चों का वजन कम होता है और साथ ही उनका प्रसव समय से पूर्व ही हो जाता है।

गर्भावस्था की शुरुआत में सतर्क रहना जरूरी

रॉयल कॉलेज ऑफ मिडवाइफ कि निदेशक का कहना है कि हमारे शोध से पता चलता है कि गर्भावस्था की शुरुआत के दौरान तनाव लेने से मां और बच्चे दोनों को नुकसान पहुंचता है।हम गर्भावस्था के दौरान घर शिफ्ट करने वाली महिलाओं को सुझाव देंगे कि भारी सामान न उठाएं, आराम करें और अपने डॉक्टर से सलाह लेती रहें।

No comments