Breaking News

दूल्हे ने ठुकराए दहेज में मिले 4 करोड़ रुपये, 1 रूपए लेकर बोला बेटी ही है सबसे बड़ा दहेज


आजकल सुर्खियों में बॉलीवुड की शादियां छाई हुई हैं नहीं तो फिर अंबानी की बेटी ईशा की शादी की सभी बातें कर रहे हैं। उन्हीं शादियों की बात करें तो हर किसी के ससुराल वालों ने अपनी बेटी को दहेज में करोड़ों रुपये या फिर सामान दिया है। दोस्तों, आज के जमाने से तो हर कोई वाकिफ है। अगर शादी हो तो दहेज की बात सबसे पहली आती है। बिना दहेज के तो अब हर शादी मानो अधूरी ही है।

दहेज ही शायद सबसे बड़ी वजह है जिसकी वजह से लड़कियां आत्महत्या जैसी चीज़ों को अंजाम देती हैं। आज हम आपको जमाने में जो चल रहा है उसका उल्टा कुछ बताने जा रहे हैं। दरअसल हम एक ऐसा किस्सा बताने जा रहे हैं जो कि दुनियाभर के लिए एक मिसाल बन चुका है। जी हां दोस्तों सही सुना आपने।

दरअसल हम जो बात कर रहे हैं वो हरियाणा की है। इस शादी में ससुराल पक्ष वालों की मांग को सुनकर आप सभी हैरान हो जाएंगे। ससुराल वालों ने मात्र 1 रुपये की मांग दहेज में की। इसे सुनने के बाद आप सबको काफी हैरानी तो हुई ही होगी।
आप सभी लोग बिलकुल सही सुन रहे हैं यह शादी मात्र ₹1 रुपये में पूरी हो गई है क्योंकि इसमें ना ही किसी बाजे की जरूरत पड़ी थी और ना ही इस शादी में किसी बाजे की धूम या किसी प्रकार की फिजूलखर्ची हुई थी बस दूल्हा अपने कुछ रिश्तेदारों के साथ बारात लेकर आया था और उसने बिना किसी दहेज या नगदी के विवाह किया था। इस अद्भुत शादी की फोटोज और वीडियोज अब सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही हैं।

हरियाणा का ये दूल्हा अब सबके दिलों पर राज कर रहा है। इसने दहेज में मिलने वाले 4 करोड़ रुपये ठुकरा कर लड़की को ही दहेज बताया। दूल्हा चूलीखुर्द गांव का रहने वाला है और इनके पिताजी का नाम छोटू राम खोखर है और माताजी का नाम संतोष है वहीं भजन लाल की पुत्री कांता खैरमपुर से है दूल्हा-दुल्हन उच्च शिक्षित है बलेंद्र ने अपने गांव में भी शादी को लेकर किसी प्रकार का दिखावा नहीं किया।

दूल्हे ने हर तरह के दिखावे को पीछे रखकर के शादी की। उसने फिजूलखर्ची को बिलकुल दूर रखा। शादी में बस एक रुपये की ही मांग की। एक रुपये के साथ लड़कियों के परिजनों ने लड़केवालों को नारियल भी दिया और इसके बाद सभी बारात लेकर बिना किसी विवाद के वापस भी चले गए। सही में अगर दूल्हा हो तो ऐसा ही हो।

No comments