Breaking News

हिमाचल: लैपटॉप एवं पैसों से भरा बैग लौटाकर पेश की ईमानदारी की मिसाल


NEWS HIMACHALI:
नादौन शहर में एक युवक व उसके पिता ने लैपटॉप और पेसों से लैस बैग मालिक को लौटा कर मिसाल कायम की है। इस कार्य के लिए शहर में लोगों ने उनकी प्रशंसा की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार नादौन के हाइपर फार्मेसी कॉलेज में कार्यरत प्राध्यापक दर्श गौत्तम मंगलवार सांय पांच बजे नादौन बस अड्डा के निकट कांगड़ा बैंक के पुराने भवन के पास स्थित नंदीकेश्वर शिव मंदिर में माथा टेकने पहुंचे।

जहां माथा टेककर जाते हुए वह अपना बैग मंदिर में ही भूल गए। इस बैग में उनका काफी मंहगा लैपटॉप, पैसों से भरा पर्स तथा अन्य जरूरी दस्तावेज थे। गौत्तम को देर सांय तक इसका आभास तक नहीं हुआ। जब उन्हें पता चला तो वह काफी देर तक इसे ढू़ंढते रहे। तभी रात करीब नौ बजे उनकी माता ने उन्हें फोन पर बैग मिलने की सूचना दी ओर वह इसे लेने मंदिर पहुंचे। जहां पर मंदिर की देखरेख करने वाले सुभाष चंद तथा उनके बेटे राकेश कुमार ने बताया कि सांय के समय उन्हें यह बैग मंदिर में मिला था।

वह काफी देर तक इसके मालिक का इंतजार करते रहे। रात तक जब कोई नहीं आया तो उन्होंने बैग में मिले एक नंबर पर फोन मिलाया जो दर्श की माता का था जिन्हें उन्होंने इस बारे सूचना दी। इसी दौरान इसी कॉलेज के अन्य बरिष्ठ कर्मचारी अनीश अवस्थी भी वहां से गुजर रहे थे जिन्होंने भी उनकी सहायता की तथा बैग को सही सलामत इसके मालिक को सौंप दिया। गौत्तम ने राकेश व सुभाष चंद का आभार व्यक्त किया।

No comments