Breaking News

पहले मनाते है सुहागरात और फिर होती है शादी राजस्थान में यहाँ लड़का-लड़की


आज हम एक ऐसी जगह की बात करने जा रहे है जहां शादी से पहले ही सुहागरात मनाई जाती है। हमारे देश की सभ्यता भले ही इसकी इजाजत नहीं देती है लेकिन जिस जगह के बारे में हम आपको बता रहे हैं वहां ये सब खुल्लम-खुल्ला होता है।

शादी से पहले ही होती है सुहागरात:

ये जगह है छत्तीसगढ़ का बस्तर जहां आसपास के क्षेत्र में एक ऐसी जनजाति पाई जाती है जो शादी से पहले सुहागरात मनाने की इजाजत देती है। हैरानी वाली बात तो ये है कि इस जनजाति में शादी से पहले सुहागरात को पवित्र और शिक्षाप्रद प्रथा माना जाता है। इस जनजाति का नाम है गोंड जो छत्तीसगढ़ से झारखंड तक के जंगलों में पाए जाते हैं।

निभाई जाती है ये परम्परा:

इन जंगलों में पाए जाने वाले गोंड जनजाति के लोगों का उपजाति या समुदाय मुरिया कहलाता है। शादी से पहले मुरिया जाती के लोग एक परंपरा निभाते हैं जिसका नाम ‘घोटुल’ है। इन लोगों का ऐसा मानना है कि जब से ये परंपरा शुरू हुई है तब से ही यहां बलात्कार का एक भी केस सामने नहीं आया है।

No comments