Breaking News

ऑफिस में अपनाएं 5 टिप्स, फिर देखें इसका कमाल


लगातार आगे बढ़ते रहने व दूसरों को हराने की सोच आज के कॉर्पोरेट कल्चर का एक भाग है।नौकरी करने वाले अक्सर ही स्ट्रेस में रहते हैं व ऐसे में वो अपने कार्य पर ज्यादा ध्यान भी नहीं दे पाते। इसी चक्कर में कार्यालय में कार्य करने वाले लोगों में लगातार तनाव व चिड़चिड़ापन जैसी भावनाएं बढ़ती जा रही है। ऐसे में स्ट्रेस का स्तर कभी-कभी इतना ज़्यादा बढ़ जाता है कि लोगों की तबियत ख़राब हो जाती है। नींद की कमी, बेचैनी व भूख से जुड़ी समस्याएं भी इसी तनाव का भाग हैं। लेकिन अगर आपको भी कुछ ऐसा ही हो रहा है तो आपको इससे राहत पाने के कुछ तरीका बता देते हैं।

अपने कार्य से कार्य रखें- माना कार्यालय में आपकी किसी-सी बहुत गहरी दोस्ती हो गयी है।लेकिन उसकी मदद उतनी ही करें जितना कि प्रोफेशनली संभव हो। आउट ऑफ द वे जाने की प्रयास ना करें। इसी तरह दूसरों के काम, टारगेट कम्प्लीशन, उनके आने-जाने के समय या कार्यालय में उनके व्यवहार से जुड़े मामलों में पड़ें। इससे बेमतलब के झगड़े, तनाव व मन-मुटाव होंगे। जिसका प्रभाव कार्यालय में आपके रिश्तों पर भी पड़ता है। साथ ही प्रोफेशनली आपका इम्प्रेशन भी ख़राब होता है।

पानी पीएं- जब गुस्सा, तनाव या किसी तरह की बेचैनी महसूस हो तो सबसे पहले एक गिलास में पानी लेकर घूंट-घूंट करके पीते रहें। अगर कार्यालय की एसी बहुत ज्यादा तेज़ या ठंडी है तो आप गुनगुना पानी पीएं।

स्ट्रेचिंग करें- अपनी कुर्सी पर बैठे-बैठे कुछ स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज़ेंस करें। साथ ही अपने हाथों से गर्दन व कंधें की हल्की मसाज करें। इससे बहुत सारा स्ट्रेस कम हो जाएगा।

वॉक पर जाएं- जब तनाव हो तो अपनी डेस्क से उठकर इर्द-गिर्द थो़ड़ा टहलें। कार्यालय के ओपेन एरिया या कैंटीन जैसी जगहों पर जाएं व थोड़ी देर खुली हवा में रहें।

संगीत सुनें- अपनी तकलीफ व बेचैनी को कम करनें में संगीत आपकी मदद कर सकता है।संगीत सुनने से आपका मूड बदल जाता है व आपका दिमाग शांत होता है।

No comments