Breaking News

शारीरिक संबंध बनाने के बाद क्यों भावुक हो जाते हैं लोग


जब आप किसी से प्यार करते हैं तो उसके साथ अंतरंग हो जाना एक आम बात है। इंसान के साथ हर बार अंतरंग पलों में होने के बाद भी कुछ न कुछ नया होता है। जिससे वह स्वयं भी हैरत में पड़ जाता है। किसी शख्स से वो कितना भी प्यार क्यों न करें लेकिन कई बार ऐसा होता है कि शारीरिक संबंध बनाने के बाद उसको रोना आने लगता है या फिर चिड़चिड़ापन होने लगता है। आइए जाने इसकी वजह क्या होती है।

अगर शारीरिक संबंध बनाने के बाद किसी महिला का मूड खराब हो जाता है या उसे चिड़चिड़ापन सा लगने लगता है और उसे लगता है कि कुछ भी ठीक नहीं है तो ऐसी समस्या से गुजरने वाली वो अकेली महिला नहीं हैं। बहुत सी महिलाएं इस तरह की समस्या से गुजरती हैं और इसका वैज्ञानिक कारण है।

इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर सेक्शुअल मेडिसिन, पोस्टक्वॉइटल डिस्फोरिया या पोस्ट सेक्स ब्लूज उस फीलिंग को कहते हैं जो अपनी इच्छा से बनाए गए शारीरिक संबंधों के बाद भी गहरे दुख या चिड़चिड़ेपन के रूप में आती है।

पोस्टक्वॉइटल डिस्फोरिया की सही वजह तो नहीं पता, लेकिन इतनी जानकारी है कि यह काफी परेशान करने वाला अनुभव होता है, विशेषतौर पर अगर अंतरंग पलों का अनुभव अच्छा रहा हो। ये वजह बहुत से लोगों को अलग-अलग तरह से प्रभावित करती है।

कुछ लोग रोने लगते हैं तो कुछ झल्लाने लगते या बेचैन हो जाते हैं। इसकी एक वजह तो यह है कि अगर कोई ऐसा इंसान हैं जो किसी से भावनात्मक स्तर पर जुड़ाव होने के बाद ही अंतरंग पलों को आनंद करते हैं तो आपको रोना आ सकता है। आपको रोना इसलिए आएगा क्योंकि आप पार्टनर से भावनात्मक रुप से जुड़े नहीं होते हैं।

ऐसा हमेशा नहीं होता लेकिन आपके हार्मोन्स की वजह से भी ऐसा हो सकता है। जब आप संबंध बनाते हैं तो दिमाग डोपामीन रिलीज करता है जिससे आप इमोशनल फील करते हैं।

आखिर में सबसे अहम बात कि अगर आप उस वक्त संबंध बनाने के लिए तैयार नहीं हैं या मानसिक रूप से सहज नहीं हैं तो आपको चिड़चिड़ापन हो सकता है। जरूरी नहीं कि यह समस्या सिर्फ महिलाओं में नजर आए स्टडीज में पुरुषों के साथ भी ऐसा देखा गया है। अगर यह समस्या कंट्रोल से बाहर हो रही है तो आप थेरपिस्ट से मिल सकते हैं।

No comments