Breaking News

कहीं भी मिल जाए यह फल तो रख लेना अपने पास, सफेद दाग, खूनी बवासीर जैसे रोगों का है इलाज




प्रकृति के बिना हमारा जीवन असंभव है। हमारे आस-पास पाए जाने वाले पेड़-पौधों में अनेक औषधीय गुण पाए जाते हैं। जो हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। आज की पोस्ट में हम आपको मकोय के पौधे के बारे में बताएंगे। इस पौधे का इस्तेमाल कई बीमारियों में भी किया जाता है। इस पौधे की पत्तियां और फलों में मैग्नीशियम, सोडियम, जिंक, फास्फोरस, आयरन और कैल्शियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। आइए इसके फायदे जान लेते हैं। कहीं भी मिल जाए यह फल तो रख लेना अपने पास, सफेद दाग, खूनी बवासीर जैसी बीमारियों का है रामबाण इलाज।

सफेद दाग

मकोय सफेद दाग की समस्याओं ने बहुत लाभदायक होता है। इस पौधे की 20 से 30 ग्राम पत्तियों को पीसकर सफेद दाग पर लगाने से सफेद दाग साफ हो जाते हैं।

खूनी बवासीर

मकोय खूनी बवासीर में भी लाभकारी होता है। मकोय के पत्तों को पीसकर रस निकाल लें। और 15 ग्राम रस की मात्रा को सुबह-शाम मस्सों पर लगाएं। इससे खूनी बवासीर में लाभ मिलेगा।

कमजोर पाचन शक्ति

मकोय पाचन शक्ति को भी मजबूत करने का काम करता है। मकोय का काढ़ा 50 ग्राम और 2 ग्राम पीपल का चूर्ण डालकर सुबह-शाम पीने से पाचन शक्ति मजबूत होती है। और पेट सही तरीके से साफ होता है। इसके अलावा पीलिया की बीमारी में मकोय के पत्तों का काढ़ा बनाकर पीने से फायदा मिलता है।

No comments