Breaking News

शिमला: सीएम से मिले गुड़िया के माता-पिता बोले-सीबीआई जांच पर भरोसा नहीं


शिमला के कोटखाई में हुए बहुचर्चित गुड़िया रेप एवं मर्डर कांड की जांच पर उठ रहे ताजा सवालों के बीच गुड़िया के माता पिता ने वीरवार को सीएम जयराम ठाकुर से मुलाकात की। सचिवालय में हुई इस मुलाकात में परिजनों ने सीएम से मामले की न्यायिक जांच करवाने की गुहार लगाई। इसके साथ ही एक पत्र भी सरकार को सौंपा। गुड़िया के पिता ने कहा कि सरकार ने भले ही गुड़िया मामले के बाद महिलाओं की सुरक्षा के लिए कई कदम उठाए, लेकिन अभी भी गुडिय़ा अपने न्याय को तरस रही है।

उन्होंने कहा कि गरीब की बेटी है तो केस दबा दो, ऐसा नहीं होना चाहिए। उन्होंने आशंका जताई कि इस मामले में नीलू अकेला नहीं बल्कि किसी अन्य की संलिप्तता भी हो सकती है। उन्होंने कहा कि पुलिस, एसआईटी और फिर सीबीआई द्वारा की गई जांच में अलग-अलग तथ्य उभर कर सामने आए हैं। इसी तरह सीबीआई की रिपोर्ट में यह हवाला दिया था कि इस मामले में एक व्यक्ति की संलिप्तता पाई गई है जबकि पिछले दिनों सीबीआई कोर्ट में गुजरात फॉरेंसिक लैब के एक्सपर्ट के हलफनामे और ब्यान सामने आए हैं, उसके अनुसार पूरे मामले में एक से अधिक की संलिप्तता से इंकार नहीं किया जा सकता है।

ऐसे में सभी पहलुओं को देखते हुए मामले की जांच किसी न्यायाधीश से करवाई जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि वह जांच एजेंसी पर कोई सवाल नहीं उठाना चाहते लेकिन अब फॉरेंसिक लैब के एक्सपर्ट ने आशंका जाहिर की है, उसको देखते हुए मामले की पुन: जांच करवाई जानी चाहिए। गुड़िया की माता ने मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में कहा कि असली आरोपी बेनकाब होने चाहिए और बेटी को न्याय मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि एक आदमी से ज्यादा दरिंदे केस में संलिप्त हो सकते हैं। सीएम ने गुड़िया के माता-पिता की आशंकाओं को सुना और उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

No comments