Breaking News

अगर आपकी अंगुलियां भी पानी में भीगने से इस तरह की हो जाती हैं तो यह खबर तुरंत पढ़ें


आपने अपने जीवन में कई बार देखा होगा कि हाथों को बहुत देर तक पानी में रखने से या बहुत देर तक कपड़े धोने से अंगुलियों सिकुड़ जाती हैं। क्या कभी आपने सोचा है कि ऐसा क्यों होता है ? हालांकि कुछ देर बाद अंगुलियां अपनी सामान्य स्थिति में वापस आ जाती हैं। आइए इसके बारे में विस्तार से जान लेते हैं। अगर आपकी अंगुलियां भी पानी में भीगने से इस तरह की हो जाती है तो यह खबर तुरंत पढ़ें।

पानी में भीगने से अंगुलियों का सिकुड़ना सामान्य घटना है। इसमें डरने और घबराने वाली बात नहीं है। ऐसा इंसान के शरीर की सुरक्षा के लिए होता है। आप सोच रहे होंगे कि अंगुलियों के सिकुड़ने से हमारे शरीर की सुरक्षा किस तरह होती है। तो हम आपको विस्तार से बता दे कि हमारा शरीर बहुत चालाक है। हमारा शरीर अपने आपको किसी भी परिस्थिति में आसानी से डाल लेता है। जब हम हाथ पानी में रखते हैं तो हाथों की पकड़ ढीली हो जाती है। इसलिए हाथों की अंगुली सिकुड़ जाती हैं। ताकि पानी में भी हम किसी चीज को मजबूती से पकड़ सकें।

पानी में हाथ रखने से अंगुलियों के सिकुड़ने का कारण हमारे शरीर का आॅटो मानस नर्वस सिस्टम होता है। और वैसोकंसट्रिक्शन के कारण अंगुलियों का मांस सिकुड़ जाता है। और पानी में हाथों की पकड़ मजबूत हो जाती है।

इसलिए पानी में भीगने से अंगुलियों के सिकुड़ने से डरने की कोई बात नहीं है। यह हमारे अच्छे स्वास्थ्य का संकेत होता है। और इससे हमें संकेत मिलता है कि हमारा ऑटो मानस नर्वस सिस्टम सही ढंग से काम कर रहा है।

No comments