Breaking News

सावधान बटुए में रखे नोट बन सकते हैं आपकी बीमारी का कारण


आप भले ही यह खबर पढ़कर चौंक जाएंगे, लेकिन हकीकत यही है कि बटुए में रखे हुए नोट आपके लिए सुरक्षित नहीं हैं, बल्कि इनमें कई ऐसे बैक्टीरिया मौजूद हैं जो आपको बीमार कर सकते हैं। यह बात हाल में हुए एक शोध में सामने आई है। यह शोध वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान केंद्र और जिनोमिक्स एण्ड इंटीग्रेटिव बायलॉजी द्वारा किया गया है।

शोध में यह बताया गया कि बटुए में रखे नोट में 70 प्रतिशत कवक, 1 प्रतिशत विषाणु और 9 प्रतिशत बैक्टीरिया हो सकते हैं, जो हमें बीमार करने के लिए काफी होते हैं। शोधकर्ताओं ने यह भी बताया कि शोध के दौरान यह भी पता चला कि बटुए में रखे नोटों पर कई सूक्ष्मजीवी और एंटीबायोटिक प्रतिरोधी होते हैं, जो खतरनाक बीमारी फैलाने में माहिर होते हैं। इन सूक्ष्मजीवों से पेट में संक्रमण, चर्मरोग और सांस से जुड़ी कई बीमारी सामने आती है।

दिल्ली में कई किराने की दुकान, पटरीवालों, चाय की दुकानों और कैंटीन से यह नमूने जमा किए गए। जिसमें यह पता चला कि 10, 20 और 100 रुपए के नोट का ज्यादातर इस्तेमाल किए जाते हैं। पैसे के लेन-देन से एक इंसान के हाथ के बैक्टीरिया दूसरे पर चले जाते हैं।

यही कारण है कि विदेशों में कागज के नोट की जगह प्लास्टिक के नोट का इस्तेमाल किया जाता है। प्लास्टिक के नोट में डेबिट और क्रेडिट कार्ड का नाम आता है। कागज से बने नोटों में काफी गंदगी होती है, जिस कारण बीमार रहने का खतरा काफी बढ़ जाता है। इसलिए प्लास्टिक के नोट का ही इस्तेमाल करने की बात की जाती है। इनका इस्तेमाल करने से आप बीमारियों से बच सकते हैं और रोग मुक्त रह सकते हैं।

No comments