Breaking News

दो करोड़ के चक्कर में खत्म हो गई पूरी फैमिली, दीवार पर चिपके मिले बाउंस चेक


देश की राजधानी दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में मंगलवार सुबह दिल दहला देने वाली खबर सामने आई। यहां एक शख्स ने अपने बच्चों की हत्या कर अपनी पत्नी और एक महिला दोस्त के साथ आठवीं मंजिल से छलांग लगा दी। इसमें शख्स और उसकी महिला दोस्त की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि उसकी पत्नी ने इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ा।

घटना गाजियाबाद जिले के इंदिरापुरम के वैभव खंड में कृष्णा अपरा सोसाइटी में हुई। मृतक गुलशन कुमार आठवीं मंजिल से सुबह करीब पांच बजे दो महिलाओं के साथ नीचे कूद गए। इसमें एक महिला और गुलशन की मौत तो घटनास्थल पर हो गई जबकि एक महिला जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा था, उसकी भी मौत हो गई। पुलिस ने बताया है कि मरने वाले दोनों बच्चों में एक लड़का है और एक लड़की। इनके शव के साथ ही फ्लैट में एक खरगोश का भी शव मिला है।

मृतकों की पहचान गुलशन कुमार(45), पत्नी परवीन(43) महिला दोस्त (38), कृतिका (18), ऋतिक (13) के रूप में हुई है। इस मामले में पुलिस को दीवार पर लिखा एक सुसाइड नोट भी मिला है जिसमें एक शख्स को मौतों का जिम्मेदार ठहराया है। साथ ही अंतिम इच्छा भी जताई है। दीवार पर लिखा है, कि हमारी तमन्ना है कि लाशों को एक साथ जला जाए।

वहीं, जांच में सामने आया है कि गुलशन कुमार दिल्ली में जींस का कारोबार करता था। दो करोड़ रुपये को लेकर मृतक गुलशन ने अपने परिवार को खत्म कर लिया। यह दो करोड़ का लेन-देन उसके सगे साढ़ू राकेश वर्मा के साथ था। जिस राकेश वर्मा को घटना के लिए जिम्मेदार बताया गया है, वह साहिबाबाद के शालीमार गार्डन का रहने वाला है।

दरअसल, गुलशन कुमार ने राकेश वर्मा को दो करोड़ रुपये दिए थे, वो पैसे वापस नहीं कर रहा था। हालांकि उसने एक-दो बार पैसे वापस देने की कोशिश भी की, लेकिन राकेश वर्मा के चेक ही बाउंस हो गए।

एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने बताया की दिल्ली के झिलमिल में पैतृक संपत्ति के बंटवारे के दौरान गुलशन के हिस्से में दो करोड़ रुपये आए थे। जो उसने अपने साढ़ू राकेश वर्मा के साथ बिजनेस में लगा दिए थे। एसएसपी के मुताबिक राकेश वर्मा गुलशन के पैसे नहीं लौटा रहा था, जबकि बाजार में उस पर देनदारी का दबाव था। कमरे से जो बाउंस चेक बरामद हुए हैं, वह भी करीब एक करोड़ रुपये के हैं।

No comments