Breaking News

हिमाचल: एक हाथ में स्‍टीयरिंग और दूसरे में मोबाइल, 20 km तक चैट करता रहा बस ड्राइवर


सोशल मीडिया का इस्‍तेमाल करने की खुमारी इस कदर सिर चढ़ गई है कि लोग जान जोखिम में डालकर भी इसका यूज करने से नहीं हिचकिचा रहे। फ‍िर चाहे वह बस ड्राइवर ही क्‍यों न हो। जिला बिलासपुर में ऐसा ही मामला सामने आया है। बिलासपुर जिले के स्वारघाट क्षेत्र में एक निजी बस के ड्राइवर ने बस चलाते हुए लापरवाही की सारी हदें तोड़ दी। छकोह से नयना देवी के लिए जाने वाली परमार बस सर्विस का ड्राइवर मोबाइल फोन चलाता रहा।

ड्राइवर एक हाथ में स्‍टीयरिंग और दूसरे हाथ में मोबाइल फोन लेकर फेसबुक और मेसेंजर पर चैट करता रहा। ड्राइवर को इस बात काे नजर अंदाज कर गया कि उसके हाथों में 30 से 35 जिंदगियां भी हैं, जो उस बस में सवार थीं। सवारियों से भरी हुई बस चलाते हुए वह काफी देर तक फेसबुक पर चैटिंग करता रहा। इस दौरान करीब उसने 12 किलोमीटर का सफर तय किया। सवारियों ने ड्राइवर के इस लापरवाह रवैये का वीडियो भी बनया है।

क्‍या कहते हैं अधिकारी और ऑपरेटर: क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी बिलासपुर एसके पराशर का कहना है कि इस संबंध में ऑपरेटर को नोटिस जारी किया गया है। निजी बस ऑपरेटर विक्रम परमार ने कहा कि इस संबंध में ड्राइवर से जवाब मांगा गया है। इस तरह की लापरवाही कतई सहन नहीं की जा सकती।

हादसों से भी नहीं ले रहे सबक: हिमाचल प्रदेश में कई खतरनाक सड़क हादसे हो चुके हैं। लेकिन इसके बावजूद बस चालक लापरवाही बरतने से बाज नहीं आ रहे। बीते वर्ष बंजार में हुए निजी बस हादसे में करीब 48 लोगों की मौत हो चुकीे थी। इसके बाद सरकार व प्रशासन ने कुछ दिन तक तो सख्‍ती बरती। लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता गया प्रशासन की कार्रवाई ढीली पड़ती गई और कानून व नियमों की धज्जियां उड़ने शुरू हो गईं।

No comments