Breaking News

ये धाकड़ बल्‍लेबाज हुआ फिट, अगले 48 घंटे में टीम के साथ जुड़ेगा


मुंबई: युवा ओपनर पृथ्‍वी शॉ अगले 48 घंटे में न्‍यूजीलैंड में भारतीय ए टीम से जुड़ेंगे। पृथ्‍वी शॉ को पिछले सप्‍ताह रणजी ट्रॉफी मैच में कंधे में चोट लगी थी, जिसके बाद न्‍यूजीलैंड दौरे पर उनका जाना मुश्किल लग रहा था। मगर वह अपनी चोट से उबर चुके हैं और अब जल्‍द ही भारत ए से जुड़ेंगे। पृथ्‍वी का रिहैब कार्यक्रम राष्‍ट्रीय क्रिकेट एकेडमी (एनसीए) ने संभाला, जिसने प्रतस्पिर्धी क्रिकेट में उनकी जल्‍दी वापसी कराई।
बीसीसीआई के वरिष्‍ठ अधिकारी ने पीटीआई से बुधवार को कहा, 'पृथ्‍वी शॉ गुरुवार या फिर शुक्रवार की सुबह न्‍यूजीलैंड के लिए रवाना हो जाएंगे। उन्‍हें पूरी तरह फिट करार दिया गया है।'

20 साल के पृथ्‍वी शॉ के पास न्‍यूजीलैंड दौरे पर राष्‍ट्रीय चयनकर्ताओं को प्रभावित करने का शानदार मौका रहेगा। इसमें बेहतर प्रदर्शन करके वह न्‍यूजीलैंड के खिलाफ आगामी टेस्‍ट सीरीज के लिए अपनी दावेदारी पेश कर सकते हैं।
एक सूत्र से जानकारी मिली है कि भारतीय टेस्‍ट टीम में रिजर्व ओपनर के लिए पृथ्‍वी शॉ और शुभमन गिल के बीच प्रतिस्‍पर्धा होगी। सूत्र ने अपना नाम सामने नहीं आने की शर्त पर कहा, 'शुभमन रिजर्व ओपनर बनेंगे क्‍योंकि पृथ्‍वी अभी डोपिंग बैन झेल रहे हैं। अगर हम प्रदर्शन के आधार पर आगे बढ़े तो शॉ का पलड़ा भारी है। पृथ्‍वी शॉ को प्रदर्शन के कारण टीम से बाहर नहीं किया। मगर चोट और मैदान के बाहर कुछ वजहों से वह टीम से बाहर हुए। अब पृथ्‍वी और शुभमन के बीच रिजर्व ओपनर के लिए स्‍पर्धा होगी।'
शॉ ने भारत की तरफ से दो टेस्‍ट खेले हैं, जिसमें डेब्‍यू मैच में शतक की बदौलत 237 रन बनाए।

पृथ्‍वी शॉ की चोटें और बैन
पृथ्‍वी शॉ को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए टीम इंडिया में शामिल कर लिया गया। अभ्यास मैच में शानदार प्रदर्शन करने के बाद टेस्ट सीरीज के आगाज से पहले वो अभ्यास के दौरान चोटिल हो गए। उनकी एंडी की चोट गंभीर थी ऐसे में उन्हें बगैर कोई टेस्ट मैच खेले स्वदेश वापस लौटना पड़ा। फिट होने के बाद आईपीएल में उन्होंने वापसी की लेकिन कोई बड़ा धमाल नहीं कर सके। लेकिन इसके बाद उन्हें डोपिंग का दोषी पाया गया और उनपर प्रतिबंध लगा दिया गया। नवंबर में उन्होंने मैदान में मुंबई के लिए वापसी की।

रणजी ट्रॉफी में उन्होंने शानदार आगाज किया और बड़ौदा के खिलाफ शानदार दोहरा शतक(202) दिया। ऐसे में न्यूजीलैंड दौरे के लिए टेस्ट टीम में उनकी वापसी की संभावनाओं को बल मिला था लेकिन किस्मत ने उन्हें एक बार फिर धोखा दे दिया। शुक्रवार को मुंबई और कर्नाटक के बीच रणजी ट्रॉफी मैच के पहले दिन ओवरथ्रो रोकने के प्रयास में शॉ के कंधे में चोट लग गयी थी। इसके बाद दूसरे दिन वह फील्डिंग के लिए मैदान में नहीं उतरे। इसके बाद बल्लेबाजी के लिए भी नहीं आए। बाद में उन्हें बेंगलुरू स्थित एनसीए भेज दिया गया।

No comments