Breaking News

भारतीय नदियों से पाकिस्तान जाने वाले पानी को अब रोकने में कामयाब होगा भारत


आतंकवादियों के सबसे बड़े पनाहगाह पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए भारत सरकार ने कई कड़े फैसले लिए है। पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए भारत ने आर्थिक, कूटनीतिक और सैन्य स्तर पर हर तरह से कदम उठाये वहीं अब इस कड़ी में भारत सरकार पाकिस्तान के खिलाफ वो कदम उठाने के लिए अपनी तैयारियां तेज कर दी है जिसके अंतर्गत पाकिस्तान को भारत की नदियों का पानी नहीं मिल पायेगा।
इस कार्य को कार्यान्वित करने के लिए केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा है कि "भारत से पाकिस्तान जाने वाले नदियों के पानी को पाकिस्तान में जाने से रोकने की योजना का काम अब अंतिम दौर पर पहुंच चुका हैं। इस संबंध में कई फिजिकल टेक्निकल स्टडी रिपोर्ट आ चुकी हैं और कई रिपार्ट आने वाले दिनों में आने वाली है।" बता दें की इस मामले में जम्मू कश्मीर प्रशासन से भी सहमति मिल चुकी है।

इस मसले पर केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने आगे कहा कि "हम आने वाले दिनों में नया इतिहास रचेंगे और पाकिस्तान जाने वाले भारत के हिस्से के पानी को रोकने में कामयाब होंगे।" इस दौरान उन्होंने नमामी गंगा प्रोजेक्ट के बारे में चर्चा करते हुए बताया कि आज गंगा दुनिया की सबसे टॉप 10 साफ नदियों में शामिल हो चुकी हैं। यह हमारे लिए काफी गर्व की बात है।"

बता दें की मोदी सरकार सिंधु जल समझौते के तहत आने वाली तीन नदियों रावी, ब्यास और सतलुज के पानी को डायवर्ट कर यमुना में लाने का प्लान बना रही है। अगर यह प्लान सच हो जाता है तो पाकिस्तान की परेशानियां बढ़ जाएंगी। बता दें कि जब पहली बार भारत ने पाकिस्तान जाने वाली नदियों के पानी को रोकने का मुद्दा उठाया था, तो पाकिस्तान तिलमिला उठा था और अपना विरोध दर्ज करवाया था।

No comments