Breaking News

हिमाचल: घर बनाना पड़ेगा महंगा, बढ़े सीमेंट के रेट


पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के बाद अब सीमेंट कंपनियों ने दाम बढ़ाकर हिमाचल के लोगों को बड़ा झटका दिया है। इससे प्रदेश की जनता अपने आप को ठगा हुआ महसूस होने को मजबूर है क्योंकि हिमाचल में बनने बाला सीमेंट जहांं हिमाचल में ही मंहगा है। अन्य राज्यों में हिमाचल का सीमेंट सस्ते दाम पर उपभोक्ताओं को उपलब्ध हो रहा है। हाल ही में सीमेंट के दामों में 5 और 10 रुपये प्रति बैग बढ़ोतरी की गई है। प्रदेश में तीनों बड़ी सीमेंट कंपनियां एसीसी, अंबुजा और अल्ट्राटेक ने एक साथ दाम बढ़ाने से उपभोक्ताओं में भारी रोष है।

बता दें कि इन तीनों सीमेंट कंपनियों के हिमाचल में अपने बड़े प्लांट है,लेकिन यहीं सीमेंट बनने के बावजूद भी सूबे के लोगों को पड़ोसी राज्यों से महंगा सीमेंट मिल रहा है। एसीसी कंपनी ने पहले 5 जनवरी को 5 रुपए फिर 9 जनवरी को 5 रुपए दाम और बढ़ा दिए। वर्ष 2019 में एसीसी सीमेंट बैग की कीमत 374 थी। वर्ष 2020 के दूसरे सप्ताह 386 रुपये कीमत हो गई है। अंबुजा सीमेंट कंपनी के दामों में भी 10 रुपये का उछाल आया है। एक बैग की कीमत 390 रुपये हो गई है। कंपनी ने 4 जनवरी को दाम 10 रुपये बढ़ा दिए।

मार्केट के जानकारों के अनुसार अंबुजा सीमेंट के दामों में अभी और बढ़ोतरी हो सकती है। अल्ट्राटेक कंपनी ने भी सीमेंट के दाम 5 रुपये बढ़ा दिए हैं। अब सीमेंट बैग की कीमत 379 रुपये हो गई है। उधर जब इस बारे में हिमाचल प्रदेश के उद्योग मंत्री विक्रम सिंह ठाकुर से इस बारे में बात की गई तो उन्होंने कहा कि हिमाचल का सीमेंट पंजाब के मुकाबले हिमाचल में इसलिए महंगा है क्योंकि हिमाचल में माल ढोने वाली गाड़ियां और लोजिस्टिक महंगा है।

उन्होंने कहा कि जहांं पर लोजिस्टिक सस्ता है वहांं पर इस तरह की कोई परेशानी नहीं है। लेकिन फिर भी प्रदेश सरकार कोशिश कर रही है कि सीमेंट के दाम सस्ते हो। उन्होंने यह भी कहा कि सीमेंट के दाम हिमाचल सरकार द्वारा तय नहीं किया जाता और यह सरकार के कंट्रोल में नहीं है। लेकिन फिर भी हमारी कोशिश है कि सीमेंट के दामों पर नियंत्रण रखा जाए।

No comments