Breaking News

इस मंदिर के पास आते ही क्यों रुक जाती है ट्रैन,जानिए क्या है राज


भले ही हमें ईश्वर के आकार-प्रकार के बारे में पता ना हो, पर उनकी शक्ति का एहसास हमें अपने चारों ओर देखने को मिल जाता है जिसके कारण ही करोड़ों लोगों की आशाएं एक मुर्ति के सामने आकर टिक जाती है। ऐसी ही एक चमत्कारिक शक्ति जिसके सामने इंसान को क्या तेज रफ्तार से चलती ट्रेने भी खुद-ब-खुद धीमी होकर उन्हें प्रणाम करने के लिए रूक जाती है। यह जीता-जागता उदाहरण हमें मध्य प्रदेश के शाजापुर जगह पर स्थित बोलाई गांव के हनुमान जी के एक चमत्कारिक मंदिर में देखने को मिलता है।

# श्री सिद्धवीर खेड़ापति हनुमान मंदिर रतलाम-भोपाल रेलवे ट्रेक के बीच बोलाई स्टेशन से करीब 1 किमी दूर है। पुजारी पं. नारायणप्रसाद उपाध्याय बताते है कि ये मंदिर करीब 600 साल पुराना है।

# मंदिर का सबसे बड़ा चमत्कार यह है कि मंदिर के सामने से जब भी कोई भी ट्रेन निकलती है तो उसकी स्पीड अपने आप कम हो जाती है।

# मंदिर की एक अन्य मान्यता ये है कि यहां भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। यहां हर शनिवार, मंगलवार और बुधवार को दूर-दूर से श्रद्धालु आते हैं।

# ये मान्यता है कि यहां आने वाले लोगों को भविष्य की घटनाओं का पहले ही अंदाजा लग जाता है। इस मंदिर से कई चमत्कार जुड़े हुए हैं।

# यहां स्थापित हनुमान प्रतिमा के बाएं बाजू पर श्री सिद्धि विनायक गणेशजी विराजित हैं। एक ही प्रतिमा में दोनों भगवान होने से ये प्रतिमा अत्यंत पवित्र, शुभ और फलदायी मानी जाती है।

No comments