Breaking News

कोरोना मुक्ति की ओर हिमाचल! 6 दिन से कोरोना का कोई नया मामला नहीं


शिमला. हिमाचल प्रदेश कोरोना (Corona Virus) मुक्त होने की ओर अग्रसर होता जा रहा है. मंगलवार को लगातार छठे दिन भी सूबे में कोरोना को कोई मामला सामने नहीं आया है. इससे पहले, 22 अप्रैल को हिमाचल के सिरमौर (Simour) के पावंटा साहिब में कोरोना का अंतिम मामला रिपोर्ट हुआ था. तब से अब तक, कोई नया केस रिपोर्ट नहीं हुआ है. बता दें कि सूबे में कोरोना के चालीस मामले रिपोर्ट हुए हैं, जिनमें से 25 मरीज स्वस्थ (Health) हो गए हैं, 10 एक्टिव केस हैं. चार मरीज दिल्ली चले गए थे, जबकि एक शख्स की मौत हुई है.

मंगलवार को इतने सैंपल जांचे मंगलवार को हिमाचल की चार लैब में कोरोना को लेकर 285 सैंपल की जांच हुई, जिनमें से 278 की रिपोर्ट नेगेटिव रही. सात की रिपोर्ट बाकी है. मंडी के लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज नेरचौक में पहले दिन तीन सैंपल की जांच की गई और सभी की रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई. कांगड़ा के आईएचबीटी लैब में पालमपुर में छठे दिन 22 सैंपल जांचे गए. इसके अलावा, आईजीएमसी शिमला में 80, डॉ. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कॉलेज टांडा (कांगड़ा) में 137 और सीआरआई कसौली में 43 सैंपलों की जांच की गई है. प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य आरडी धीमान ने कहा कि जल्द ही हिमाचल कोरोना मुक्त हो जाएगा.

डीजीपी सीताराम मरडी का बयान डीजीपी सीताराम मरडी ने इस बाबत कहा है कि हिमाचल में बीते 6 दिनों से कोई नया मामला नहीं आया है. प्रदेश में हालात संतोषजनक हैं. उन्होंने कहा कि आस-पड़ोस में कोई बाहर से आया हो तो उसकी सूचना प्रशासन को दें. कोई बीमार है तो वो अस्पताल जा सकता है. प्राइवेट या सरकारी अस्पताल किसी का इलाज करने से इनकार नहीं कर सकते हैं.

हर जिले का हाल हिमाचल में ऊना जिले में सबसे अधिक 16 मामले सामने आए. चंबा जिले में छह केस रिपोर्ट हुए. सोलन में 9 केस, चंबा में 6, कांगड़ा जिले में पांच, सिरमौर और हमीरपुर में दो-दो केस रिपोर्ट हुए हैं.

खतरा अभी टला नहीं हिमाचल प्रदेश में 27 और 28 अप्रैल सुबह तक दूसरे राज्यों से पास के जरिये 22946 लोगों की एंट्री हुई है. सबसे ज्यादा लोग हॉटस्पाट रहे ऊना में ही दाखिल हुए हैं. ऐसे में सूबे में फिर से कोरोना के मामले सामने आ सकते हैं. बॉर्डर पर एंट्री के दौरान इन लोगों की केवल स्क्रीनिंग की जा रही है. सूबे में लगातार लोगों की आवाजाही से हालात बिगड़ सकते हैं. इससे पहले, सीएम जयराम ठाकुर ने सभी डीसी को कहा था कि हिमाचल एंट्री के लिए कम कर्फ्यू पास बनाएं, ताकि एंट्री प्वाइंट पर भीड़ कम हो और लोगों जांच ठीक से हो सके.

No comments