Breaking News

सिर्फ 10 दिन तक रोज खाएं थोड़ा सा जीरा, फिर देखे कमाल


भारतीय खाने में मसालों के इस्तेमाल का अलग ही महत्व है। मसाले न सिर्फ स्वाद बढ़ाने का काम करते हैं बल्कि ये स्वास्थ्य के लिए भी बेजोड़ होते हैं। हमारे खाने में कई पकवान तो इन मसालों के नाम पर ही जाने जाते हैं जैसे ज्यादातर पसंद किया जाने वाला जीरा राइस। पकवानों में तड़के के रूप में प्रयोग किया जाने वाला जीरा औषधीय गुणों से भरपूर हे। जीरे में कई ऐसे गुण मौजूद हैं जिनके बारे में आपको खबर तक नहीं। ये पेट के लिए अचछा माना जाता है, स्‍नैक्‍स के आइटम्‍स को और स्‍वादिष्‍ट बनाने के लिए आप बस इसमें चुटकी भर जीरा पाउडर छिड़क दीजिए और फिर स्‍वाद देखिए।

जीरे के फायदे -पेट और पाचन क्रिया के लिए जीरा बहुत अच्छा होता हैऐसे में अगर आप अपने आहार में जीरा को शामिल करें, तो पाचन शक्ति में काफी हद तक सुधार हो सकता है। इसलिए, आप एसिडिटी, गैस या अपच होने पर जीरे के पानी का सेवन कर सकते हैं। इसे 10 दिन तक लगातार खाया जाए तो ये कब्‍ज में आराम देता है। इसके अलावा जीरे का पानी गुनगुना करके पीने से पेट का मोटापा कम होता है, ये वजन घटाने में सहायक है।

-हमारे शरीर में विभिन्न कारणों से गंदगी आ जाती है जिसे शरीर पसीने और फुंसियों के रूप में बाहर निकालता है। जीरे का नियमित इस्तेमाल शरीर की शोधन करने की प्रक्रिया को तेज करता है और गंदगी मुंहासों और फुंसियों के तौर पर बाहर नहीं आती। आपकी त्वचा साफ और सुंदर बनी रहती है।

-दही में भुने जीरे का चूर्ण मिलाकर खाने से डायरिया में आराम मिलता है। जीरे को नींबू के रस में भिगोकर नमक मिलाकर खाने से जी मिचलाना बंद हो जाता है। जीरा में थोड़ा-सा सिरका डालकर खाने से हिचकी बंद हो जाती है। एक चुटकी कच्चा जीरा खाने से एसिडिटी में तुरंत राहत मिलती है।

-जीरे में विटामिन ई भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जीरे के इस गुण के कारण यह त्‍वचा की सेहत के लिए बहुत ही लाभदायक माना जाता है। ये खून की कमी को दूर करता है क्‍योंकि इसमें आयरन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। चेहरे के दाग धब्‍बे, कील मुहांसों को दूर करने में सहायक है। फोड़े-फुंसियों को भी हील करता है।

-आंखों में दर्द होने पर जीरा और फिटकरी का एक घरेलु नुस्‍खा कारगर बताया जाता है। 3 ग्राम जीरा और 125 मि.ग्रा. फिटकरी पोटली में बांधकर गुलाब जल में भिगो दें। आंख में दर्द होने पर या लाल होने पर इस रस को टपकाने से आराम मिलता है। ये उपाय इंटरनेट पर मौजूद रिसर्च से लिया गया है, प्रयोग में लाने से पहले विवेक से काम लें।

No comments