Breaking News

3 भाइयों ने फिल्म देखकर स्पाइडर-मैन बनने की चाह में खुद को मकड़ी से कटवाया, अब हो गया ये हाल


बच्चे किसी भी चीज को टीवी पर या मोबाइल में देखते है, तो उसे सच मानने लगते है | फिल्मो आदि में दिखाए गए दृश्य आसानी से बच्चे दिलो दिमाग में छप जाते है | और उन्हें ये सब सच लगता है, ऐसा ही कुछ बोलीविया के रहने वाले 3 भाइयों के साथ हुआ है, जिन्होंने स्पाइडर-मैन बनने की कोशिश की |

जानकारी के अनुसार तीनो भाइयों की उम्र 8 , 10 और 12 साल है | इन्होने खुद अपने आप को मकड़ी से कटवाया |रिपोर्ट के मुताबिक इन तीनो भाइयों ने स्पाइडर-मैन फिम देखी थी | फिल्म में हीरो को मकड़ी काटती है और वह सुपरहीरो बन जाता है | इसे देखकर इन मासूमो को लगा की ये भी सुपरहीरो बन सकते है |

इन तीनो भाइयों ने सुपरहीरो बनने के लिए मकड़ी को काटने के लिए उकसाया उन्हें लगा कि ऐसा करने से वे स्पाइडर-मैन बन जायेंगे | जानकारी के अनुसार जब बच्चे ऐसा कर रहे थे, तब उनकी माँ किसी काम से घर से बाहर गयी हुयी थी |

मकड़ी के काटने के बाद उन्होंने उस मकड़ी को मार दिया | लेकिन मकड़ी के काटने की वजह से मकड़ी का जहर उनके शरीर में फ़ैल गया और जहर की वजह से मांसपेशियों में दर्द, पसीना, कंपकपी और बुखार से पीड़ित हो गए |



इसके बाद जब उनकी माँ लौटी तो उन्हें रोता हुआ पाया | बाद में माँ ने स्थानीय अस्पताल में भर्ती करवाया, लेकिन वहां भी कोई सुधार नहीं हुआ | फिर उन्हें लालगलगुआ के अस्पताल में भर्ती करवाया, लेकिन वहां भी उनकी हालत में कोई सुधार नहीं आया |

फिर उन्हें शहर के बड़े अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहाँ उन्हें मकड़ी के जहर को काटने के लिए सीरम दिया गया | तब कहीं जाकर उनकी हालत सुधर पायी | वैसे मामले पर वहां के स्वास्थ्य मंत्रालय के महामारी विज्ञान के प्रमुख, वर्जिलियो पिएत्रो ने कहा कि "बच्चों के लिए सब कुछ सच है, फिल्में सच हैं, सपने सच हो सकते हैं, लेकिन बच्चे हमारे जीवन की आशा हैं | "

No comments