Breaking News

हर महीने मिलेगी 3 हजार रुपये पेंशन, आप भी उठा सकते हैं फायदा, जानिए कैसे


केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के द्वारा असंगठित क्षेत्र (Unorganised Sector), छोटे कारोबारियों और किसानों के लिए पेंशन योजना (Pension Scheme) की शुरुआत की गई थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा शुरू की गई इन तीनों ही योजनाओं में अबतक 64,42,550 लोग रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं. इन तीनों ही योजनाओं में 3 हजार रुपये मासिक यानि 36 हजार रुपये सालाना पेंशन दिए जाते हैं.

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन पेंशन योजना (Pradhan Mantri Shram Yogi Maan Dhan Yojana-PM-SYM), प्रधानमंत्री लघु व्यापारिक मानधन योजना (Pradhan Mantri Laghu Vyapari Maan Dhan Yojana-PMLVMY)और प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (Pradhan Mantri Kisan Maandhan Yojana-PMKMY) ऐसी ही योजनाएं हैं जिनमें रजिस्ट्रेशन कराकर बुढ़ापे को खुशहाल बनाया जा सकता है. आइए तीनों ही योजनाएं की महत्वपूर्ण बातों को जानने की कोशिश करते हैं

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन पेंशन योजना (PM-SYM)
केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार ने असंगठित क्षेत्र (Unorganised Sector) में काम करने वालों लोगों के लिए प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना (PM-SYM in Hindi) शुरू की है. मानधन पेंशन योजना (Pradhan Mantri Shram Yogi Maan Dhan Yojana) की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 मार्च 2019 को गुजरात के गांधीनगर में की थी. हालांकि इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन 15 फरवरी से शुरू हो गया था. सरकार ने असंगठित क्षेत्र में काम करने वालों के लिए यह पेंशन योजना शुरू की है. इस योजना के तहत निवेशक को हर महीने कुछ राशि निवेश (Invest) करनी होगी

सरकार इस योजना के जरिए 60 वर्ष की आयु पूरी होने पर निवेशक को हर महीने 3 हजार रुपये पेंशन की गारंटी देती है. इस योजना के जरिए निवेशक को जीवन भर पेंशन जीवन भर मिलेगा. बता दें कि इस योजना में आप जितना योगदान करते हैं, सरकार भी आपके अकाउंट में उतना ही योगदान करती है. संगठित क्षेत्र में काम करने वाले व्यक्ति या कर्मचारी भविष्य निधि (EPFO), नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) या राज्य कर्मचारी बीमा निगम (ESIC) के सदस्य या आयकर का भुगतान करने वाले व्यक्तियों को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा. 15 हजार रुपये से कम आय वाले व्यक्ति इस योजना का लाभ उठा सकते हैं. ताजा आंकड़ों के मुताबिक 5 मई तक 43,84,595 लोग पीएम श्रमयोगी मानधन योजना से जुड़ चुके हैं.

प्रधानमंत्री लघु व्यापारिक मानधन योजना (PMLVMY)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड के रांची में 12 सितंबर 2019 को छोटे कारोबारियों के लिए पेंशन देने की ऐतिहासिक घोषणा की थी. प्रधानमंत्री लघु व्यापारिक मानधन योजना (Pradhan Mantri Laghu Vyapari Maan Dhan Yojana) के तहत छोटे कारोबारियों को सामाजिक सुरक्षा देने की पहल मोदी सरकार ने की थी. सरकार दुकानदारों, खुदरा विक्रेताओं और खुद का कारोबार करने वालों के लिए यह पेंशन योजना लेकर आई थी. कारोबारियों को 60 साल की उम्र तक सालाना 36 हजार रुपये पेंशन के तौर पर मिलेंगे. सालाना 1.5 करोड़ रुपये से कम कारोबार करने वाले सभी व्यापारियों को इसका लाभ मिलेगा. लघु व्यापारिक मानधन योजना के तहत अबतक 38,735 कारोबारी रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं.

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना (PMKMY)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने 12 सितंबर 2019 को झारखंड से किसान मानधन योजना (Pradhan Mantri Kisan Maandhan Yojana) को शुरू किया था. बता दें कि इस योजना के तहत किसानों को पेंशन दिया जाता है. योजना के तहत किसानों को 60 वर्ष की आयु के बाद 3 हजार रुपये पेंशन देने का प्रावधान है. सरकार की इस योजना के तहत फंड का प्रबंधन LIC करेगा. मानधन योजना के तहत इसके लॉन्च होने से पहले ज्यादा से ज्यादा किसानों को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है. बता दें कि सरकार ने इस योजना के लिए करीब 10,000 कॉमन सेंटर को भी शुरू किया है. मोदी सरकार इस योजना के जरिए 5 करोड़ किसानों को लाभ पहुंचाना चाहती है. सरकार ने 3 साल में 5 करोड़ लघु और सीमांत किसानों को जोड़ने का लक्ष्य बनाया है.

तीनों पेंशन स्कीम की कॉमन शर्तें
तीनों ही योजनाओं में व्यक्ति की उम्र 18 साल से 40 साल के बीच होनी चाहिए. ईपीएफओ, ईएसआईसी के सदस्य और आयकरदातायों को इन योजनाओं का फायदा नहीं मिलेगा. व्यक्ति के पास इस योजना का लाभ उठाने के लिए आधार कार्ड, मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट नंबर होना बेहद जरूरी है. व्यक्ति की उम्र के मुताबिक 55 रुपये से 200 रुपये तक प्रीमियम देय होगा और सरकार भी उतना ही प्रीमियम अदा करेगी. योजना में शामिल व्यक्ति को 60 साल की उम्र के बाद 3 हजार रुपये की मासिक पेंशन मिलेगी. इस योजना के योग्य कोई भी व्यक्ति नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकता है.

No comments