Breaking News

क्रिकेट इतिहास का इकलौता ऐसा खिलाड़ी जिसने अपने डेब्यू मैच में जिताया था टीम इंडिया को विश्व कप


भारतीय क्रिकेट टीम के लिए ऑलराउंडर की भूमिका निभा चुके युसूफ पठान तेज-तर्रार और तूफानी पारी खेलने वाले क्रिकेटरों में से एक हैं। करियर भले ही छोटा रहा लेकिन अपनी तूफानी स्ट्राइक रेट और लंबे छक्के मारने की काबिलियत की वजह से युसूफ ने खूब नाम कमाया।

यूसुफ क्रिकेट इतिहास के इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जिसने विश्व कप के फाइनल में डेब्यू किया था। यूसुफ ने 24 सितंबर 2007 में पहले टी20 विश्व कप के फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ ओपनिंग की थी। युसुफ ने 1 चाैके और 1 छक्के की मदद से 8 गेंदों में 15 रन बनाए थे। भारत पाकिस्तान को 5 रन से हराकर चैंपियन बना था और इस तरह यूसुफ को ट्राॅफी उठाने का गाैरव भी प्राप्त हुआ।
तीनों फाॅर्मेट में 100 से ऊपर स्ट्राईक रेट

दाएं हाथ से बल्लेबाजी और राइट आर्म ऑफ ब्रेक गेंदबाज इस खिलाड़ी का स्ट्राइक रेट किसी धुरंधर से कम नहीं है। अब तक खेले 57 वनडे मैन में उनका स्ट्राइक रेट 113.6 का है। 22 टी-20 मैच उन्होंने खेले हैं, जिनमें उनका स्ट्राइक रेट और प्रभावी 146.58 का है। हालांकि, टी-20 इंटरनैशन में उनका सर्वाधिक स्कोर सिर्फ 37 रन है। आईपीएल में भी उनका स्ट्राइक रेट ताबड़तोड़ 144.08 का है।

एक दौर वो भी था जब यूसुफ पठान मस्जिद में झाड़ू लगाया करते थे, लेकिन क्रिकेट के लिए इस युसूफ का जुनून कभी खत्म नहीं हुआ। खाली वक्त में वह अपने भाई इरफान के साथ क्रिकेट की प्रैक्टिस किया करते थे।

No comments