Breaking News

गजब!! दुल्हन लाने गया था पति, देखते ही दुल्हन ने पिता के गले में डाल दी वरमाला


हर लड़की की चाहत होती है कि उसका खूबसूरत पति हो। दुल्हन से शादी करने कई युवक इंतजार में बैठे रहे, लेकिन लड़की ने बुजुर्ग पिता के गले में माला डाल दी। ये हुआ आदिवासियों की स्वयंवर प्रथा के वक्त। यहां आपको बता दें कि तरह-तरह के रीति-रिवाजों के लिए प्रसिद्ध आदिवासी समाज में आज भी लड़की को अपने मन मुताबिक पति चुनने का अधिकार है।

दुल्हन ने पिता के गले में डाल दी वरमाला : राजस्थान के माउंट आबू स्थित नक्की झील पर पीपल पूनम पर भरने वाले आदिवासियों के मेले में स्वयंवर की यह अनूठी परंपरा हर साल निभाई जाती है। यहां आदिवासी युवतियां अपना वर समाज की मौजूदगी में अपनी पसंद से चुनती हैं। इस परंपरा की विशेष बात यह है कि लड़की अपने पसंद का पति चुनने से पहले अपने पिता से इसकी इजाजत लेती है। युवती पिता को माला पहनाकर अपने पसंद का पति चुनने के लिए इजाजत लेती है। इसके बाद वह पसंद का युवक चुनती है।

इस पर पिता उसे स्वयंवर के लिए इजाजत देता है और लड़की अपने पसंद के युवक को माला पहनाकर जीवन भर के लिए साथी चुनती है। युवती का पिता पहले अपनी पसंद के आठ या दस लड़कों का चयन करता है। उन्हें एक जगह इकट्ठा करता है। इसके बाद लड़की अपने पिता के आदेश पर उनमें से किसी एक का चयन करती है। इससे भी आगे यह कि उनमें से कोई पसंद नहीं आए वह अपनी पसंद के किसी दूसरे लड़के का हाथ थाम कर वहां से भाग भी सकती है।

No comments