Breaking News

हमीरपुर में हुई शादी, दूल्हे ने कहा-नहीं पूरे हुए दिल के अरमान


हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिले में लॉक डाउन के दौरान पूरे रीति-रिवाज के साथ एक जोड़े ने शादी की रस्में पूरी की है. यह मामला हमीरपुर जिला के साथ लगती ग्राम पंचायत अनु कला का है जिसमें गांव अनु खुर्द में श्रवण सिंह के बेटे रोहित  की शादी चलोखर गांव में की गई है. इस शादी में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा गया और केवल 6 ही लोग बरात में पहुंचे. दूल्हे दुल्हन ने पूरे रीति-रिवाजों के साथ शादी की रस्में पूरी की. हालांकि दूल्हा और दुल्हन के अरमान धूमधाम से शादी करने के धरे के धरे रह गए. शादी के बाद स्थानीय लोगों ने इस शादी की तारीफ की और कहा कि ऐसी ही शादियां होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि लोग, बाग बेवजह शादियों में धूम, धड़ाका करके पैसा बर्बाद करते हैं. शादी सादगी हो तो इससे अच्छी कोई दूसरी बात नहीं है.

‘शादी के लिए मैंने बहुत सारे अरमान सजाए थे’ बातचीत के दौरान दूल्हे रोहित ने बताया कि मैंने अपनी शादी के लिए काफी अरमान मन में सजाए हुए थे लेकिन कोरोना वायरस के चलते शादी धूमधाम से नहीं हो पाई है. उन्होंने कहा अब इन अरमानों को छोटे भाई की शादी में पूरा करेंगे. मेरी शादी पिछले साल ही तय हो गई थी, इसलिए शादी के लिए बहुत तैयारी कर रखी थी. हमने बहुत सी बातों के लिए आॅर्डर दे रखे थे, जिसे लॉक डाउन के चलते कैंसल करवाना पड़े.

शादी पर होने वाले लाखों रुपये का खर्च बच गया: दूल्हे का पिता वहीं दूल्हे के पिता श्रवण कुमार ने बताया कि मेरे बेटे रोहिम की शादी पिछले साल ही तय हो गई थी, पर कोरोना वायरस के कारण पैदा हुई महामारी और उसके कारण देशभर में जारी लॉक डाउन के चलते शादी को पूरे नियमों के तहत पूरा करवाया है. उन्होंने बताया कि लॉक डाउन के चलते शादी पर होने वाले लाखों रुपये का खर्च होने से रह गया. हमने बेटे की शादी बहुत ही सादगी से संपन्न कराए.

No comments