Breaking News

OMG! शिमला में सीजन का सबसे गर्म दिन, 5 दिन भारी बारिश की चेतावनी


हिमाचल प्रदेश में मौसम फिलहाल लुकाछिपी का खेल लगातार खेल रहा है। प्रदेश में जहां एक दिन बारिश तो एक दिन चटक धूप निकल रही है वहीं इस पूरे सप्ताह हिमाचल में मौसम खराब रहने का अनुमान है। इस दौरान प्रदेश में सात मई तक बारिश का पूर्वानुमान है। वहीं, बारिश के पूर्वानुमान के बीच शुक्रवार का दिन सीजन का अब तक सबसे गर्म दिन दर्ज हुआ। शिमला और ऊना में पारा अब तक के चरम पर पहुंच गया था।

तेज धूप खिलने से ऊना में इस साल का अभी तक सबसे अधिक पारा 38 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसके अलावा, कांगड़ा, हमीरपुर और बिलासपुर में भी गर्मी ने लोगों के पसीने छूटा दिए। पहाड़ों की रानी शिमला में इस सीजन का शुक्रवार सबसे गर्म दिन रहा और अधिकतम तापमान 23.2 डिग्री दर्ज हुआ। हिमाचल में 1 से सात मई तक मौसम खराब रहेगा। 2 से सात मई तक सूबे में येलो अलर्ट जारी किया गया है और इस दौरान प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में ओलावृष्टि और अंधड़ की चेतावनी जारी की गई है। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता की वजह से प्रदेश में मौसम में बदलाव होगा। छह और सात मई को पूरे प्रदेश में बारिश का अनुमान है।

बीते शुक्रवार को शिमला सहित प्रदेश के सभी क्षेत्रों में मौसम साफ रहा और तेज धूप खिलने से अधिकतम तापमान में चार डिग्री की बढ़ोतरी देखी गई। ऊना में अधिकतम तापमान 38.0, बिलासपुर में 34.5, हमीरपुर में 34.3, कांगड़ा में 32.6, सुंदरनगर में 31.7, चंबा में 31.2, नाहन में 30.4, सोलन में 27.5, भुंतर में 30.4, धर्मशाला में 24.6, केलांग में 18.6 और कल्पा में 22.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। अप्रैल में प्रदेश के आठ जिलों शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू, चंबा, हमीरपुर, बिलासपुर और कांगड़ा में सामान्य से अधिक बारिश हुई है। हालांकि, तीन जिलों ऊना, किन्नौर और लाहौल स्पीति में कम बारिश हुई है और इस कारण प्रदेश में औसत सामान्य से नौ फीसदी कम बारिश रिकॉर्ड हुई है। अप्रैल में 60.2 मिलीमीटर को सामान्य बारिश माना गया है, जबकि 54.9 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई। किन्नौर, लाहौल स्पीति और ऊना में कम बारिश की वजह से पूरे प्रदेश की औसत सामान्य बारिश में कमी दर्ज हुई है।

No comments