Breaking News

हार्ट अटैक से 1 महीने पहले ही शरीर देता है यह 5 संकेत, पहला संकेत लोग नजरअंदाज कर देते हैं


हृदयाघात (हार्ट अटैक) या दिल के दौरे के रूप में जाना जाता है, जिसके तहत दिल के कुछ भागों में रक्त संचार में बाधा होती है, जिससे दिल की कोशिकाएं मर जाती हैं। यह आमतौर पर कमजोर धमनीकलाकाठिन्य पट्टिका के विदारण के बाद परिहृद्-धमनी के रोध (रूकावट) के कारण होता है, जो कि लिपिड (फैटी एसिड) का एक अस्थिर संग्रह और धमनी पट्टी में श्वेत रक्त कोशिका (विशेष रूप से बृहतभक्षककोशिका) होता है। स्थानिक-अरक्तता के परिणामस्वरूप (रक्त संचार में प्रतिबंध) और ऑक्सीजन की कमी होती है, अगर लम्बी अवधि तक इसे अनुपचारित छोड़ दिया जाए, तो हृदय की मांसपेशी ऊतकों (मायोकार्डियम) की क्षति या मृत्यु (रोधगलन) हो सकती है। हार्टअटैक आने से 1 महीने पहले शरीर दे देता है ये 5 संकेत, पहला संकेत अधिकतर लोग नजरअंदाज कर देते हैं।

हार्ट अटैक आने के संकेत
1. पैरों या अन्य अंगों में सूजन
ह्रदय हमारे पूरे शरीर में खून की सप्लाई करता है। अगर खून की सप्लाई में कुछ रुकावटें आ जाती है तो शरीर के कई अंगों में खून की सप्लाई नहीं हो पाती है। जिसकी वजह से उन अंगों पर सूजन आ जाती है।
2. सांस लेने में तकलीफ होना
अगर आपको सांस लेने में दिक्कत महसूस हो रही है तो डॉक्टर को जरूर दिखाएं। जब ह्रदय से फेफड़ों तक ऑक्सीजन सही तरीके से नहीं पहुंच पाती है तो सांस लेने में परेशानी होने लगती है। और इससे हार्टअटैक भी आ सकता है।
3. सीने में दर्द या जलन
अगर आपके सीने में हमेशा दर्द और जलन रहती है तो डॉक्टर को जरूर दिखाएं। यह हार्टअटैक का संकेत भी हो सकता है।
4. कमजोरी और थकान
शरीर के अंगों में सही तरीके से ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं हो पाने से शरीर में कमजोरी और थकान हो जाती है। और शरीर में ऑक्सीजन की सप्लाई ह्रदय खून के सहारे करता है। जब ह्रदय यह काम अच्छे से नहीं कर पाता है तो हार्टअटैक आ सकता है।
5. चक्कर आना
बहुत से लोग चक्कर आने को सामान्य मानकर नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन जब दिमाग तक ऑक्सीजन अच्छे से नहीं पहुंच पाती है तो चक्कर आने लगते हैं। ऐसे में तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।

No comments