Breaking News

देवभूमि की बहादुर बेटी ने ‘गंगा की लहरों में 20 मिनट तक संघर्ष कर बचाई मां की जान’…


आज भी समाज में कुछ लोग ऐसे हैं जो लड़का और लड़की में फर्क़ करते हैं। लेकिन आज हम आपको पहाड़ की एक ऐसी बहादुर बेटी के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने धौली गंगा में बह रही अपनी मां को बचाने के लिए अपनी जान दांव पर लगा दी। बेटी ने अपनी बहती मां को बचाने के लिए धौली गंगा के उफनते पानी में बिना सोचे समझे छलांग लगा दी।

उसने लगभग 20 मिनट तक संघर्ष किया और आखिरकार अपनी माँ को सही सलामत बाहर निकाला ।दरअसल, यह घटना उत्तराखंड के चमोली जिले की है, जहां रविवार को रामकली देवी और उनकी 16 वर्षीय बेटी किरण जोशीमठ के समीप तपोवन में धौली गंगा के आसपास के जंगलों में लकड़ी लेने गए थे।

इसी बीच रामकली का पैर फिसल गया और वह नदी में गिर गई। माँ को बहता हुआ देखकर, किरण ने अपनी जान की परवाह किए बिना गंगा में छलांग लगा दी। प्रत्यक्षदर्शी ओम प्रकाश डोभाल ने बताया कि किरण ने हिम्मत नहीं हारी और लगातार 20 मिनट तक अपनी मां को बचाने के लिए धौली गंगा के उफनते पानी में संघर्ष किया और अपनी मां को सकुशल बचाने में सफल रही।

No comments