Breaking News

खुदाई करते वक्त मजदूर के हाथ लगा बेशकीमती रत्न, 25 करोड़ में बिका


कभी-कभी लोगों की किस्मत ऐसे चमक जाती है कि वे एक झटके में करोड़पति बन जाते हैं. यह मामला तब और दिलचस्प हो जाता है जब किसी गरीब मजदूर के साथ ऐसा होता है और वह रातोंरात सुर्खियां बन जाता है.

ऐसा ही एक मामला सामने आया है तंजानिया से, जहां एक खनिक की किस्मत ऐसी चमकी कि न सिर्फ वह करोड़पति बन गया बल्कि पूरा देश उसकी कामयाबी का गवाह बन गया और लोग उसकी वाहवाही करने लगे.

दरअसल, द गार्जियन की एक रिपोर्ट के मुताबिक तंजानिया के एक खनिक को गहरे बैंगनी-नीले रंग के दो रत्न मिले. इसी रत्न के बदले तंजानिया सरकार ने उसे इतनी बड़ी धनराशि दी कि हर कोई हैरान रह गया.

सनिनीयू लैजर नामक इस खनिक को सरकार ने 7.74 बिलियन तंजानिया शिलिंग यानी 3.35 मिलियन डॉलर (करीब 25 करोड़ 36 लाख के बराबर) का चेक दिया.

लैजर को बकायदा एक कार्यक्रम के दौरान सम्मानित किया गया. उत्तरी तंजानिया के मनयारा क्षेत्र में आयोजित कार्यक्रम में देश के खनन मंत्री साइमन मसनजिला ने कहा कि यह ऐतिहासिक अवसर है. उन्‍होंने कहा कि इससे पहले कभी इतने बड़े आकार का टैंजेनाइट देखने को नहीं मिला.

बैंगनी रंग के इन दुर्लभ पत्थरों को बैंक ऑफ तंजानिया ने खरीदा है. बैंक ने खनिक लैजियर को जब चेक से भुगतान किया गया तो पूरा समारोह तालियां गूंज उठा. इस कार्यक्रम का टीवी पर लाइव प्रसारण किया गया. इस मौके पर देश के राष्ट्रपति जॉन मगुफुली ने लैजियर को फोन करके बधाई दी.

तंजानिया ने पिछले साल देश भर में ऐसे व्यापारिक केंद्र स्थापित किए जहां खननकर्मी सरकार को रत्न और सोना बेच सकते हैं. इसका मकसद अवैध ट्रेड को रोकना है.

फिलहाल सनिनीयू लैजर नामक इस खनिक की कहानी पूरे तंजानिया में छाई हुई है. अंतरराष्ट्रीय मीडिया में भी यह खनिक सुर्खियों में है. लोग इस खनिक को भाग्यशाली भी बता रहे हैं.

बता दें कि भारत समेत दुनियाभर की कोयला खदानों से ऐसे मामले सामने आते रहते हैं जब खुदाई करते वक्त किसी मजदूर के हाथ इतने बेशकीमती रत्न मिल जाते हैं और वह करोड़पति बन जाता है.

No comments