Breaking News

गंभीर बोले- कहां है 30 हजार बेड? कोरोना पर सच बताए केजरीवाल सरकार


दिल्ली में बढ़ रहे कोरोना केस को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है. पूर्व क्रिकेटर और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद गौतम गंभीर ने ई-सलाम क्रिकेट के मंच पर कहा कि दिल्ली की हालत चिंताजनक है. केजरीवाल सरकार को अनलॉक नहीं करना चाहिए था. शराब की दुकानें खुली उसके बाद से स्थिति नहीं संभली.बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने कहा कि आप (सीएम अरविंद केजरीवाल) कह रहे थे कि एक करोड़ लोगों को अनाज दे रहे हैं, दूसरे दिन 25 लाख लोग छोड़कर चले गए. सरकार ने दावा किया कि हम लोगों को खाना खिला रहे हैं, लेकिन आज तक किचेन की जानकारी नहीं दी गई. स्थिति बहुत खराब है. आम लोगों को दिक्कत हो रही है.

गौतम गंभीर ने कहा कि किसी राजनेता या सेलिब्रिटी को दिक्कत नहीं हो सकती है. उन्हें अस्पतालों में बेड मिल जाएगा, लेकिन आम आदमी को दिक्कत होगी. उन्हें बेड नहीं मिल रहा है. लोगों के सामने बड़ी समस्या है. केजरीवाल सरकार ने दावा किया था कि 30 हजार बेड का इंतजाम कर लिया गया है, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और है.

केंद्र की जिम्मेदारी के सवाल पर बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने कहा कि सबकी जिम्मेदारी है. अगर आपने 30 हजार बेड के इंतजाम का दावा किया गया तो इसकी डिटेल देनी चाहिए. आपने एक किचन का एड्रेस नहीं दिया. आपने जब मुझसे पीपीई किट को लेकर दिक्कत बताई तो मैंने पीपीई किट के सभी वेंडर का एड्रेस दे दिया.

गौतम गंभीर ने कहा कि जनता को बताइए कि वह 30 हजार बेड कहां है. जमीन पर कहीं लोगों को बेड नहीं मिल रहा है. लोगों को हॉस्पिटल में धक्के खाने पड़ रहे हैं. आपके पास पैसा था नहीं. डीजल पर पैसा बढ़ाने से महंगाई बढ़ गई. दिल्ली की जनता को सच बताइए. हम मिलकर काम करने के लिए तैयार हैं. हम नहीं चाहते हैं कि दिल्ली परेशानी झेले.

No comments