Breaking News

पाकिस्तान में 73 साल से बंद है एक की दुकान, कोई भी नहीं तोड़ सका इस दुकान का ताला


यह एक हिन्दू की दुकान है जो मजबूरी में बँटवारे के वक्त पाकिस्तान छोड़कर हिंदुस्तान चला आया. आते वक्त वह बहुत भावुक था उसने गांव के लोगों से कहा वह एक दिन वापस आयेगा. पश्तून लोलाराई के इलाके में इस दुकान में अभी तक वही ताला लगा हुआ है जो जाते उस हिन्दू ताजिर ने लगाया था 73 साल से यह दुकान बंद है !
दुकान जिसके हवाले था वह एक पश्तून पठान था जो अब इस दुनिया में नहीं है उसने अपनी औलाद को वसीयत की थी इस दुकान का ताला न तोड़े क्यों कि उसने उस हिन्दू दुकान वाले को जुबान दी थी कि तुम्हारे आने तक ऐसा ही रहेगा
दुकान के मालिक की औलाद आज भी उस ताले को हाथ नहीं लगाती हालांकि कि उन्हें मालूम है वह अब इस दुनिया में नहीं होगा और कोई आने वाला नहीं लेकिन एक वादा जो एक पठान एक हिन्दू पश्तून से करके गया उसी की याद के तौर पर यह दुकान वैसी ही बंद है।
यह कहानी है एक पठान की जुबान का...!

No comments