Breaking News

अकबर ने पूरी जिंदगी नहीं कराई थी अपनी बेटियों की शादी, वजह कर देगी हैरान !


मुगल साम्राज्‍य के बारे में हम सभी ने पढ़ा हैा मुगल शासकों में अकबर काफी प्रसिद्ध था अकबर ने अपने शासन काल में अपनी प्रजाओं के लिए बहुत कुछ किया अकबर एक ऐसा शासक था। जो सभी धर्मो को समान रूप से देखता था। इसी के चलते जहां उसकी कई बेगम थी वही उसने हिंदू रानी से भी विवाह किया। अकबर एक महान और पराक्रमी योद्धा था। हिंदूस्‍तान के विकास में भी अकबर की अहम भूमिका रही।
अकबर को उसकी शानों-शौकत के लिए भी जाना जाता है। आज हम आपको अकबर से संबंधित एक ऐसी बात बताएंगे जिसके बारे में शायद ही आपने पहले कभी सूना हो। क्‍या आपको पता है कि अकबर ने अपनी तीनों बेटियों का विवाह नहीं कराया। जी, हां अकबर की तीन बेटियां थी जिसमें से एक का भी उसने विवाह नहीं कराया। आखिर इसके पीछे की वजह क्‍या रही होगी

आज इस बात का खुलासा हम आपके सामने करने जा रहे हैं। दरअसल अकबर को किसी के सामने झुकना पसंद नहीं था। जब अकबर की बेटियां बड़ी हुई तब एक अन्‍य पिता की तरह उसे भी अपनी बेटियों की शादी चिंता सताई लेकिन अकबर को ये लगा कि बेटियों को शादी कराई तो उसे दूल्‍हें के पिता और दूल्‍हें के सामने झूकना पड़ेगा जो उसे कतई मंजूर नहीं था।

अपने और अपने बेटियों के मान-सम्‍मान को कायम रखने के लिए अकबर ने ये फैसला लिया। अपने पिता के इसी फैसले के चलते अकबर की बेटियां उम्र भर अपने पिता के महल में ही रही। अकबर की बेटियों के महल में पुरूषों का प्रवेश वर्जित था।

अपनी बेटियों की सुरक्षा को ध्‍यान में रखते हुए उसने महल में किन्‍नर सेनाओं को तैनात किया था। अकबर की इस नीति का पालन उसके वंशज ने भी किया। उन्‍होंने भी आजीवन अपनी बेटियों को कुंवारी रखा। अकबर की इस नीति को आप एक पिता के प्‍यार के रूप में देख सकते हैं या फिर इसे उसका जिद कह सकते हैं जिसका खामियाजा उनकी बेटियों को भूगतना पड़ा।

No comments