Breaking News

कोरोना वायरस से दिल्ली का बुरा हाल, केसों के संख्या के मामले में मुंबई से आगे निकला


कोरोना वायरस से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली बुरी तरह प्रभावित है। राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को और 3,788 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के साथ ही दिल्ली में कोविड-19 के मामले बढ़ कर 70,000 के आंकड़े को पार कर गए, जबकि शहर में अभी तक इस संक्रमण से 2,365 लोग की मौत हुई है।

इसी के साथ दिल्ली इस वायरस से बुरी तरह प्रभावित मुंबई से आगे निकल गयी। मुंबई में मंगलवार तक कोविड-19 संक्रमण के कुल मामले 68,410 थे। दिल्ली में अभी तक कुल 70,390 लोग इस वायरस से संक्रमित हुए हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार से अनुरोध किया कि वह कोविड-19 के प्रत्येक रोगी की सरकारी अस्पताल में अनिवार्य रूप से जांच कराने संबंधी अपने नए आदेश को वापस ले ले। उन्होंने यह भी कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 की स्थिति अभी 'गंभीर नहीं'' है।

दिल्ली में कोविड-19 प्रभावित क्षेत्रों में निगरानी का दायरा बढ़ाने और संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए लोगों का पता लगाने के लिए अधिकारियों ने आरोग्य सेतु एप्प को सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) आधारित एक अन्य प्रणाली के साथ जोड़ने की योजना बनाई है। यह केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुझावों के अनुसार दिल्ली सरकार द्वारा कोविड-19 से मुकाबले के लिए बनाई गई एक योजना का हिस्सा है।

सिर्फ 4 फीसदी मरीजों को रखना पड़ा वेंटीलेटर पर

इस बीच, स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों ने जानकारी दी कि देश में मंगलवार तक सामने आए कोविड-19 के चार लाख 40 हजार मामलों में से सिर्फ 15.34 प्रतिशत मरीजों को आईसीयू देखभाल की जरूरत पड़ी, 15.89 प्रतिशत को ऑक्सीजन देना पड़ा जबकि 4.16 प्रतिशत को वेंटिलेटर पर रखना पड़ा। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण के दोगुने होने की दर में भी सुधार हुआ है। यह दर 12 जून को 17.4 दिन थी जबकि बीते तीन दिनों में यह 19.7 दिन हो गई है।

No comments