Breaking News

हिमाचल: एक साल के बेटे को नानी के पास छोड़ ड्यूटी पर डटीं आरक्षी सोम लता


महिला पुलिस आरक्षी 30 वर्षीय सोमलता अपने एक साल के बेटे को नानी के पास छोड़कर कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सहयोग कर रही हैं। कर्फ्यू ढील मिलते ही सामरिक महत्व को देखते हुए मनाली-लेह मार्ग के साथ लाहौल, पांगी की ओर आवाजाही करने वाले वाहनों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। केलांग में तैनात महिला आरक्षी अपने बेटे की परवाह न करते हुए लाहौल में प्रवेश कर रहे वाहन की चेकिंग करती नजर आ रही हैं।

गोशाल गांव की सोम लता वर्ष 2013 में पुलिस बटालियन में भर्ती हुई थी। 2016-17 में राजधानी शिमला में भी ट्रैफिक ड्यूटी में तैनात रहीं। अब गृह जिले में सेवाएं दे रही हैं। गोशाल पंचायत के उपप्रधान अजीत कुमार ने कहा कि सोम लता गोशाल गांव की है। एक साल का बेटा है, जिसे वे नानी के पास छोड़कर आई हैं। डीएसपी केलांग हेमंत कुमार, एसएचओ केलांग ठाकुर दास, एसएचओ उदयपुर भमोती राम ने सोम लता की सराहना की है।

No comments