Breaking News

कांगड़ा जिला में इस प्लान के तहत खोले जाएंगे मंदिर


कांगड़ा जिला में प्रमुख धार्मिक स्थलों, शक्तिपीठ मंदिरों को खोलने से पहले कोविड-19 के प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए कार्य योजना तैयार करने के निर्देश उपमंडलाधिकारियों को दिए हैं। उपमंडलाधिकारियों से कार्ययोजना की रिपोर्ट मिलने के पश्चात ही शक्तिपीठ मंदिरों को दर्शनों के लिए खोला जाएगा। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि शक्तिपीठ मंदिरों को खोलने से पहले मंदिर अधिकारियों तथा मंदिर के कर्मचारियों तथा पुजारियों को भी प्रशिक्षण दिया जाएगा तथा मंदिरों को सेनेटाइज इत्यादि करने के लिए भी उपयुक्त कदम उठाए जाएंगे।

उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि मंदिरों में किसी तरह की भीड़ एकत्रित नहीं हो इसके लिए भी मंदिर में श्रद्वालुओं के प्रवेश को लेकर अलग अलग समय निर्धारित किया जाएगा। इस के लिए उपमंडलाधिकारियों को उपयुक्त प्लान तैयार करने के लिए कहा गया है ताकि किसी भी स्तर पर कोविड संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। इसके साथ ही मंदिरों में श्रद्वालुओं प्रवेश तथा बाहर निकलने के लिए भी अलग अलग रास्ते निर्धारित करने के लिए कहा गया है।

उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि कांगड़ा जिला के ज्वालामुखी मंदिर, ब्रजेश्वरी मंदिर, चामुंडा मंदिर, बगलामुखी मंदिरों में श्रद्वालुओं की भीड़ ज्यादा रहती है तथा इन मंदिरों में कोविड-19 के प्रोटोकॉल की अनुपालना पर ज्यादा फोक्स रहेगा।

No comments