Breaking News

हिमाचल में निजी बसें नहीं चलेंगी, एचआरटीसी के भी कई रूट बंद


कोरोना महामारी के बीच अनलॉक-1 में प्रदेश भर में पिछले एक सप्ताह से शुरू हुई परिवहन सेवा सवारियां नहीं मिलने के कारण हांफने लगी है। बसों में 60 फीसदी सवारियां ही बिठाने के निर्देश के चलते जहां निजी बस ऑपरेटरों ने पूरे प्रदेश में अपनी बसें नहीं चलाने की बात कही है, वहीं हिमाचल पथ परिवहन निगम (एचआरटीसी) को भी कई रूट सवारियां नहीं मिलने के कारण बंद करने पड़ गए। सोमवार को निगम ने प्रदेश भर में 1400 रूटों पर बसें ही नहीं भेजीं। कई रूटों को मर्ज करना पड़ा। इस कारण निगम को बसों की समयसारिणी में बड़ा बदलाव करना पड़ा। बुधवार से नई समयसारिणी से बसें दौड़नी शुरू हो जाएंगी। परिवहन विभाग के निदेशक कैप्टन जेएम पठानिया ने बताया कि बसों के समयसारिणी और रूट मर्ज करने का कार्य आरटीओ और आरएम को सौंपा गया है। शिमला डीएम दलजीत सिंह ने बताया कि जहां सवारियां नहीं मिल रही हैं, उन रूटों को बंद किया गया है। कई रूट मर्ज किए गए हैं। जैसे-जैसे सवारियां बढ़ेंगी, रूटों रूट सुचारु करते जाएंगे।

एचआरटीसी चलाएगा फिक्स टाइम बसें

कोरोना संकट के बीच लोगों को परिवहन सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए एचआरटीसी ने फिक्स टाइम पर बसें चलाने का निर्णय लिया है। एचआरटीसी की बसें शिमला से प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों के लिए रवाना होंगी। बसों की रवानगी का समय निर्धारित कर समय सारणी तैयार की गई है। इसके अलावा प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से राजधानी शिमला के लिए रवाना होने वाली बसों की भी समय सारणी तैयार की गई है। एचआरटीसी ने 10 जून को रवाना होने वाली बसों की समय सारणी जारी की है। मंगलवार को इस समय सारणी में नए रूट भी जोड़े जाएंगे, ताकि प्रदेश के सभी क्षेत्रों को बस सेवा से जोड़ा जा सके। एचआरटीसी शिमला के क्षेत्रीय प्रबंधक देवासेन नेगी ने बताया कि समय सारणी निर्धारित कर बसों का संचालन किया जाएगा।

No comments