Breaking News

जाने सरकार की क्या है बुढ़ापे के लिए पेंशन योजनाएं


ये फॉर्मुला नौकरी वालों पर विशेष रूप से फिट बैठता है, क्योंकि उन्हें एक दिन रिटायर होना है। इसलिए बेहतर है कि हर महीने आप अपनी इनकम में से कुछ पैसा अपने भविष्य के लिए बचाते रहें। दूसरे आप महंगाई को हरा सकेंगे। क्योंकि जो चीज आज 100 रु की है वो कल 100 रु की नहीं रहेगी। अब यदि आप पैसा ऐसे ही रखेंगे तो फायदा नहीं होगा। बल्कि उसे निवेश करके आपके 100 रु भी ज्यादा हो जाएंगे। यहां हम आपको ऐसी सरकारी योजनाओं के बारे में बताएंगे जिनमें निवेश करके आपका फ्यूचर सुरक्षित होगा और बुढ़ापा चेन से कटेगा।

अटल पेंशन योजना – मोदी सरकार ने 2015 में अटल पेंशन योजना लॉन्च की थी। इस योजना का मकसद असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे लोगों को अपने फ्यूचर के लिए पैसा जमा करने की सुविधा मुहैया करना है। यदि आप इस योजना से जुड़ें तो आपको 5000 रु महीना तक की पेंशन मिल सकती है।

जहां तक योजना के मासिक प्रीमियम का सवाल है तो 18 साल वाले किसी व्यक्ति को 60 वर्ष की आयु में 1,000 रुपये मासिक पेंशन(atal pension yojana 2020) हासिल करने के लिए हर महीने सिर्फ 42 रुपये देने होंगे। वहीं 5,000 रुपये की मासिक पेंशन हासिल करने के लिए आपको 60 साल की आयु तक मासिक 210 रुपये देने होंगे। 40 साल वालों को 1,000 रुपये की पेंशन के लिए 291 रुपये और 5000 की पेंशन के लिए 1,454 रुपये का प्रीमियम हर महीने जमा करना होगा।

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना – ये भी एक पेंशन योजना है, जो 18 साल से लेकर 40 साल तक की उम्र वाले किसानों के लिए शुरू की गई थी। इस योजना में किसानों को 3,000 रुपए की मासिक पेंशन मिलती है। आंकड़ों के अनुसार प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना में 20 लाख से अधिक किसान जुड़े चुके हैं

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना – केंद्र सरकार ने फरवरी 2019 में प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत असंगठित क्षेत्र में काम करने वालों को 60 साल की उम्र के बाद 3000 रु की मासिक पेंशन मिलती है। 18 से 40 साल का कोई भी वो भारतीय नागरिक इस योजना से जुड़ सकता है, जो असंगठित क्षेत्र में काम करता हो।

No comments