Breaking News

बच्चे ने निगला सिक्का, रेड जोन में घर होने के कारण नहीं किया भर्ती, हुई मौत


केरल के कोच्चि में एक तीन साल के बच्चे की गले में सिक्का फंसने के बाद दम घुटने से मौत हो गई। परिवार के लोगों का आरोप है कि बच्चे ने गलती से एक सिक्का मुंह में डाल लिया था, जो कि उसके गले में फंस गया। इसकी जानकारी के बाद परिवार उसे अस्पताल में  लेकर पहुंचा, लेकिन चूंकि उनके घर का इलाका कंटेनमेंट जोन में था इसलिए किसी सरकारी अस्पताल ने उसका इलाज नहीं किया। इसी बीच दम घुटने से बच्चे की मौत हो गई। केरल की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने इस मामले को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए स्वास्थ्य सचिव से इसपर रिपोर्ट मांगी है।

कोच्चि के कंदुनगुल्लूर इलाके में रहने वाले इस परिवार का कहना है कि शनिवार सुबह बच्चे की तबीयत बिगड़ने पर वो सभी उसे लेकर अलूवा गवर्नमेंट हॉस्पिटल में गए थे। इस दौरान जब बच्चे का एक्स रे किया गया तो सिक्के के फंसे होने की जानकारी मिली। लेकिन इसके बावजूद अस्पताल के लोगों ने बच्चे को एडमिट करने से मना कर दिया। परिवार ने कहा कि चूंकि वो कंटेनमेंट जोन में रहते हैं, ऐसे में डॉक्टरों ने बच्चे को ऐडमिट नहीं किया।

हालांकि डॉक्टर का कहना है कि चूंकि अस्पताल में बच्चों का कोई डॉक्टर नहीं था, इसलिए उसे दूसरे अस्पताल में तत्काल ले जाने को कहा गया। इसके बाद परिवार बच्चे को एर्नाकुलम के सरकारी अस्पताल में लेकर पहुंचा। यहां भी किसी चिकित्सक ने उसे ऐडमिट नहीं किया। यहां से बच्चे को अलपुझा के अस्पताल में ले जाया गया और यहां पर भी उसे भर्ती नहीं किया गया। बाद में इस बच्चे की मौत हो गई। घटना की जानकारी के बाद केरल की स्वास्थ्य मंत्री ने अब चिकित्सकों की कथित लापरवाही की जांच करने का आदेश दिया है।

No comments