Breaking News

हिमाचल के लाल का राजकीय सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार

हिमाचल के लाल का राजकीय सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार जम्मू कश्मीर के बारामुला में शाहिद हुए सिरमौर के वीर सपूत प्रशांत ठाकुर की पार्थिव देह वीरवार को उनके पैतृक गांव ठाकुर गवाना पहुँची। जहां पर राजकीय सम्मान के साथ सैनिक टुकड़ी सहित प्रशासन के अधिकारियों व हजारों लोगों ने नम आँखों से सहीद सैनिक को अंतिम विदाई दी। जम्मू कश्मीर के बारामुला में आतंकियों से हुई मुठभेड़ में शहीद हुए तीनों सैनिकों को देहरादून में श्रद्धांजलि दी गई। 10 बजे तीनों की पार्थिव देह को उनके गांव के लिए रवाना किया गया। प्रशांत ठाकुर की पार्थिव देह 11:00 बजे पांवटा साहिब पहुंची। पांवटा साहिब से करीब 1 घंटे में पैतृक गांव गवाना पहुंची।


रास्‍ते में भी वीर सपूत को जगह-जगह लोगों ने श्रद्धांजलि दी। प्रशांत ठाकुर अमर रहे के नारों की गूंज सुनाई पड़ रही थी। पांवटा साहिब से सिरमौर पुलिस की टुकड़ी एस्कॉर्ट के साथ पार्थिव देह को लेकर गांव पहुंची, जहां पर देहरादून से भारतीय सेना की एक टुकड़ी भी प्रशांत ठाकुर की पार्थिव देह के साथ आई है। पार्थिव देह काे अंतिम संस्कार के लिए गांव के समीप ही गिरी नदी के किनारे ले जाया गया। प्रशांत सिंह ठाकुर का गिरी नदी के समीप राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

सैकड़ों की संख्या में लोगों ने शहीद प्रशांत सिंह ठाकुर को श्रद्धांजलि दी। जिला प्रशासन की ओर से सभी तैयारियां बुधवार को ही पूरी कर ली गई थी। वहां पर राजकीय व सैन्य सम्मान के साथ अंतिम विदाई में जिला सिरमौर उपायुक्त डॉ आर के परुथी, जिला पुलिस अधीक्षक अजय कृष्ण शर्मा, नाहन एसडीएम विवेक चंदेल तथा पूर्व सैनिक संगठन के सदस्यों के द्वारा भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई।

No comments