Breaking News

6 माह बाद सैलानियों के आने से शिकारी देवी, शैटाधार और कमरूनाग धार्मिक स्थलों पर लौटी रौनक


मंडी: हिमाचल प्रदेश के बॉर्डर खुलने के पश्चात बाहरी राज्यों से सैलानी जिला मंडी के धार्मिक स्थलों का रुख कर रहे हैं। कोरोना संकट के कारण 6 माह से बंद पड़े धार्मिक स्थलों में अब धीरे-धीरे रौनक लौटने लगी है। बता दें कि जिला मंडी का शिकारी देवी मंदिर 3359 एमआरटी की ऊंचाई पर स्थित है तथा 6 माह बाद बाहरी राज्यों से सैलानी यहां पहुंच रहे हैं।

यहां पर विशाल हरे चरागाह, मनोरंजक सूर्योदय और सूर्यास्त, बर्फ सीमाओं के मनोरम दृश्य इस जगह को प्रकृति प्रेमियों के लिए पसंदीदा बनाते हैं। वही मंडी जिले के बड़ा देव कमरूनाग, शैटाधार, पराशर और जालपा मंदिर सरोआ में पर्यटकों के आने से रौनक लौट आई है। मौसम सुहावना रहने से सप्ताह के अंत में इन स्थलों में लोग परिवार, दोस्तों और मेहमानों सहित भारी संख्या में पहुंच रहे हैं।

यहां सोशल डिस्टेंसिंग का सैलानियों द्वारा पूरा ध्यान रखा जा रहा है। सैलानी कोविड-19 संकट के बीच यहां मास्क पहनकर ही प्रवेश कर रहे हैं। उधर एसडीएम थुनाग पारस अग्रवाल ने बताया कि जिला मंडी के धार्मिक स्थलों में 6 माह बाद रौनक लौट आई है। बाहरी राज्यों से भारी संख्या में सैलानी यहां की वादियों को निहारने पहुंच रहे हैं।

No comments