Breaking News

नहीं आ रही नींद तो तेजपत्ता कर सकता है आपकी मदद, जानें इसके छुपे हुए गुण


नई दिल्ली: डायबिटीज (Diabetes) के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं. ब्लड शुगल लेवल पर बुरा प्रभाव डालने के अलावा डायबिटीज कई दूसरी गंभीर बीमारियों (Serious Diseases) की वजह बनती है. यह ऐसी बीमारी है जो एक बार किसी के शरीर को पकड़ ले तो उसे फिर जीवन भर छोड़ती नहीं. डायबिटीज सीधे तौर पर शरीर में इंसुलिन के (Insulin Levels) स्तर को प्रभावित करता है.

डायबिटीज से होने वाले रोगों की लिस्ट और खतरे की संभावनाएं डरावनी हो सकती हैं, लेकिन मधुमेह को कंट्रोल किया जा सकता है और इससे होने वाले खतरों को रोका जा सकता है. ऐसा आप नियमित व्यायाम, डायबिटीज के लिए आहार (Diabetic Diet) अपनाकर कर सकते हैं. इसके लिए घरेलू इलाज को आजमाकर उसे काबू जरूर किया जा सकता है. इन घरेलू इलाजों में तेजपत्ता (Bay leaf) का उपयोग भी शामिल है. तेजपत्ते से न केवल मधुमेह के मरीजों को लाभ होता है बल्कि इसके और भी कई लाभ हैं.

टाइप-2 मधुमेह मरीजों के लिए फायदेमंद है तेजपत्ता इस पत्ते का उपयोग टाइप-2 डायबिटीज मरीजों के लिए काफी लाभदायक होता है. यह ब्लड शुगर के स्टार को नॉर्मल बनाए रखने में सहायता करता है. इससे हृदय को भी लाभ पहुंचता है. इसलिए डायबिटीज से पीड़ित लोगों को इसका उपयोग आवश्यक करना चाहिए.

पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है तेजपत्ता पाचन संबंधी दिक्कतों के लिए तेजपत्ते का उपयोग काफी लाभदायक है. यह पेट से जुड़ी कई दिक्कतों से राहत दिलाने में मददगार होता है. इसके उपयोग से कब्ज, मरोड़ और एसिडिटी जैसी दिक्कतों से राहत मिल सकती है. प्रातः चाय के साथ भी इसका उपयोग कर सकते हैं.

अच्छी नींद के लिए बेहद लाभदायक है तेजपत्ता  अगर आप नींद न आने की दिक्कत से जूझ रहे हैं तो रात्रि सोने से पहले तेजपत्ते के ऑइल की कुछ बूंदों को पानी में मिलाकर पिएं. इस पानी से आपको अच्छी नींद आएगी.

आंखों की दिक्कत को कर सकता है दूर तेजपत्ते को मालाबार पत्ता के नाम से भी जाना जाता है. इसमें विटमिन-ए और विटमिन-सी मिलता है और ये तो आप सभी जानते ही होंगे कि विटमिन-ए हमारी आंखों से जुड़ी दिक्कतों को दूर करने का कार्य करता है. जबकि विटमिन-सी बॉडी में व्हाइट ब्लड सेल्स की संख्या बनाए रखने में सहायता करता है. वहीं, व्हाइट ब्लड सेल्स बॉडी की इम्यूनिटी को मजबूत बनाता हैं.

No comments