Breaking News

सोमवार को इन उपायों को करने से गरीब भी बन जाता है अमीर


आज सोमवार है और मन्याता के मुताबिक सोमवार का संबंध भोले नाथ से है। इस दिन को भेले भंडारी (Bhole Bhandari) के भक्त खास मानते हैं और उनकी अराधना करते हैं। वहीं ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सोमवार का दिन चंद्र ग्रह का दिन है। इस दिन चंद्र ग्रह की शांति के लिए उपाय किए जाते हैं।

सोमवार के दिन भगवान भोलेनाथ की पूजा होती है, अगर आप भी हर सोमवार को शिव की पूजा सच्चे मन से करते हैं तो भोलभंडारी जरुर आपके उपर भी प्रसन्न होंगे।कहते हैं शिव जी को खुश करना बेहद सरल हैं क्योंकि उनका दिल कमल के समना हैं और वो अपने भक्तों पर हमेशा कृपा बनाए रहते हैं।

भोलेनाथ को अगर आप सच्चे दिल से हर सोमवार को एक लोटा जल भी भेंट कर दें वो आपसे प्रसन्न हो जाएंगे। सोमवार का दिन खास उन्ही के लिए समर्पित है, ऐसे में आइए जानते हैं की ज्योतिष के अनुसार आखिर सोनमवार के दिन भोलेनाथ की पूजा कैसे की जाए वो आपकी झोली में सारी खुशियां भर दें और आपकी चिंताएं कम हो जाए।

मान्यता के मुताबिक सोमवार के दिन व्रत और पूजा करने से श‍िव जी अपने भक्‍तों पर बहुत जल्‍द खुश होते हैं। वे भक्‍तों की हर मनोकामना पूर्ण करते हैं। व्रत और पूजा करने वालों के जीवन से दुख, रोग, क्‍लेश व आर्थि‍क तंगी दूर होती है। कुवांरी कन्‍याओं द्वारा इस द‍िन व्रत व शि‍व पूजन कि‍ए जाने से उनका व‍िवाह हो जाता है। इतना ही नहीं उन्‍हें भोलेनाथ (Bholenath) जैसा मनचाहा वर म‍िलता है।

सोमवार के द‍िन सुबह स्‍नान आद‍ि करने के बाद मंद‍िर जाएं या घर पर ही विधिविधान से श‍िव जी (Shivji) की पूजा करें। सबसे पहले भगवान शिव (Shivji) के साथ माता पार्वती और नंदी को गंगाजल और दूध से स्‍नान कराएं। इसके बाद उन पर चंदन, चावल, भांग, सुपाड़ी, बिल्वपत्र और धतूरा चढ़ाएं। भोग लगाने के बाद आख‍िरी में श‍िव जी (Shivji) की व‍िध‍िव‍िधान से आरती करें।

सोमवार (Somvar) को करें ये उपाय...
सोमवार के दिन शिवलिंग पर केसर मिला दूध अर्पित करने से विवाह में आ रही रुकावटें दूर होती है। इसके साथ ही शीघ्र विवाह के योग भी बनते हैं।
पापों से मुक्ति और सुखों की प्राप्ति के लिए सोमवार के दिन भोलेनाथ को तिल और जौं अर्पित करें। भगवान शिव को जौ अर्पित करने से सुख में वृद्धि और तिल चढ़ाने से पापों का नाश होता है।
जल में काले तिल मिलाकर शिवलिंग का अभिषेक करते समय ऊं नम: शिवाय का जाप करें। ऐसा करने से व्यक्ति को आत्मिक शांति मिलेगी।
इच्छा पूर्ति के लिए सोमवार को 21 बिल्व पत्रों पर चंदन से ऊं नम: शिवाय लिखकर शिवलिंग पर अर्पित करें।
रोगों से मुक्ति हेतु शिवलिंग का 101 बार जलाभिषेक करें। जलाभिषेक करते समय ऊं जूं सः मंत्र का जाप करते रहें।
सोमवार के दिन आटे से 11 शिवलिंग निर्मित करके 11 बार उनका जलाभिषेक करने से संतान प्राप्ति के योग बनते हैं।
धन प्राप्ति के लिए मछलियों को आटे की गोलियां खिलाएं। गोलियां खिलाते समय भगवान शिव का ध्यान करते रहना चाहिए।
धन की बढ़ौतरी के लिए घर में पारद से निर्मित शिवलिंग स्थापित करके प्रतिदिन पूजा करें।
सुख-समृद्धि की प्राप्ति के लिए और परेशनियों से छुटकारा पाने के लिए सोमवार को नंदी (बैल) को हरी घास खिलाएं।
गरीबों को भोजन करवाने से घर में कभी भी अन्न की कमी नहीं होती। इसके साथ ही पितरों की आत्मा को भी शांति मिलती है।

No comments