Breaking News

गज़ब यार: लॉकडाउन में जॉब गई, हाथ से लकड़ी का साइकिल बनाने लगा,...विदेशों से आ रहे खरीददार


40 साल के एक कार्पेंटर धनी राम सग्गू ने आत्मनिर्भर भारत का उदाहरण पेश किया है. हाथ से बने हुए उनकी लकड़ी की साइकिल चर्चा का विषय बने हुई है. वह पंजाब के जिरकपुर के रहने वाले हैं.

लॉकडाउन में धनी राम ने निर्णय लिया कि वह ईको-फ्रेंडली साइकिल बनाएंगे. उनका आइडिया हिट भी हो गया. अब उन्हें कनाडा से लेकर दक्षिण अफ्रीका तक से ऑर्डर आ रहे हैं.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, सग्गू उन लोगों में से हैं, जिनकी जॉब मार्च में लॉकडाउन लगने के बाद से चली गई. लेकिन, उन्होंने तय कर लिया कि वह डिप्रेशन में नहीं जाएंगे और वह अपना ध्यान कुछ नया करने पर लगाएंगे.

उनकी एक दुकान है जिसका नाम है नूर इंटीरियर. यह दरवाजों, कपबोर्ड्स, कोठियों के सेल्व्स के लिए काम करती है. लेकिन, लॉकडाउन में उनका काम पूरी तरह से ठप पड़ गया था और वह बिना के काम हो गए थे.
यूनीक और प्रीमियम लाइफस्टाइल प्रोडक्ट

सग्गू ने 27 जुलाई से 30 अगस्त के बीच 8 साइकिल बेची है. वहीं, 5 अन्य पर वह काम कर रहे हैं. उनका मानना है कि कठिन परिश्रम से सबकुछ बदल जाता है. अब उन्हें हीरो साइकिल की तरफ से भी शुभकामनाओं भरे संदेश आ रहे हैं. चेन्नई की भी एक कंपनी उनसे संपर्क कर रही है.

No comments