Breaking News

SBI से होम लोन लेने पर मिल रहे हैं 3 ऑफर, ऐसे करें अप्लाई, मिलेगी ब्याज में छूट


अगर आप घर खरीदने जा रहे हैं और होम लोन लेने के बारे में सोच रहे हैं तो भारतीय स्टेट बैंक आपके लिए बेहतर ऑफर लेकर आया है. SBI Home Loans के लिए अगर आप SBI YONO के जरिए अप्लाई करते हैं तो होम लोन के ब्याज पर आपको छूट मिल सकती है. भारतीय स्टेट बैंक 1 जुलाई 2020 से 6.95 फीसदी ब्याज दर पर हाउसिंग लोन दे रहा है.

मिल रही है इतनी छूट: भारतीय स्टेट बैंक SBI Home Loans पर तीन ऑफर दे रहा है. इस ऑफर के तहत होम लोन अप्लाई करने पर आपको प्रोसेसिंग फीस नहीं देनी होगी. वहीं अगर आपका सिबिल स्कोर बहुत अच्छा है तो आपको 30 लाख से एक करोड़ रुपये तक के लोन पर 10 बेसिस प्वाइंट की छूट मिल सकती है. वहीं SBI YONO के जरिए होम लोन अप्लाई करने पर आपको 5 बेसिस प्वाइंट की एक्स्ट्रा छूट मिलेगी.

इन तरीकों से एसबीआई के होम लोन के लिए कर सकते हैं अप्लाई

YONO ऐप के जरिए Login करके www.honeloans.sbi वेबसाइट पर जा कर www.psbloansin59minuts.com वेबसाइट के जरिए 1800112018 हेल्पलाइन नम्बर पर फोन करके sbi branch में जा कर 9223588888 नम्बर पर 'HOME' SMS करके

मिलेगा सब्सीडी का फायदा भारतीय स्टेट बैंक के जरिए होम लोन अप्लाई करके आप अपने पहले घर पर PRADHAN MANTRI AWAS YOJANA “HOUSING FOR ALL (Urban)” मिशन के तहत 2.67 लाख रुपये तक की सब्सिडी का फायदा ले सकते हैं.

एसबीआई ने दी ये सुविधा कोरोना काल में भारतीय स्टेट बैंक (State Bank of India) ने अपने होम लोन (Home Loan) ग्राहकों के लिए एक सुविधा को शुरू किया है. इस सुविधा के तहत अब ग्राहकों को घर बैठे ही इंटरेस्ट सर्टिफिकेट (Interest Certificate) मिलेगा. इस सर्टिफिकेट की आईटीआर (ITR) भरते वक्त जरूरत पड़ती है, क्योंकि यह आयकर (Income Tax) में छूट दिलवाता है.

इस तरह से कर सकते हैं सर्टिफिकेट डाउनलोड होम लोन इंट्रेस्ट सर्टिफिकेट के लिए सबसे पहले आपको अपने अकाउंट को लॉगिन करना होगा. लॉगिन करने के बाद आपको 'ई सर्विसेज' सेलेक्ट करना होगा. ई सर्विसेज में जा कर आपको माई सर्टिफिकेट विकल्प चुनना होगा. यहां आपको अपना होम लोन अकाउंट नंबर सेलेक्ट करना होगा. इसके बाद अपने आप होम लोन इंट्रेस्ट सर्टिफिकेट आपके सामने स्क्रीन पर आ जाएगा. आप इस सर्टिफिकेट का पीडीएफ डाउनलोड कर सकते हैं. कुछ समय पहले तक इस सर्टिफिकेट के लिए ग्राहकों को अपने ब्रांच जाना पड़ता था.

No comments