Breaking News

ठीक होने के बाद कपिल देव बोले- 1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम से मिलना चाहता हूं


भारत के महान कप्तान और भारतीय टीम को पहली बार वर्ल्ड कप का खिताब दिलाने वाले कपिल देव को पिछले हफ्ते दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद उनका सफल कोरोनरी एंजियोप्लास्टी की गई थी. भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव अब अपने घर लौट आए है.

 दिग्गज कपिल देव ने एंजियोप्लास्टी करवाने के एक सप्ताह बाद गुरुवार को 1983 विश्व कप विजेता टीम के अपने साथियों का अभिवादन करते हुए कहा कि वह अब बहुत अच्छा महसूस कर रहे हैं और वह सभी से फिर से मिलने के लिये बेताब हैं. 

इस 61 वर्षीय खिलाड़ी को दिल का दौरा पड़ा था जिसके बाद उनकी एंजियोप्लास्टी की गयी थी। उन्हें दो दिन बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी थी. एंजियोप्लास्टी बंद हुई धमनियों को खोलने की प्रक्रिया है जिससे हृदय में सामान्य रक्त प्रवाह बना रहे. कपिल ने कहा, ‘‘1983 का मेरा परिवार। मौसम सुहाना है दिलकश जमाना है. क्या कहें बहुत दिल कर रहा है आप सबसे मिलने का.

बहुत अच्छा महसूस कर रहा हूं. आपकी चिंता और शुभकामनाओं के लिये फिर से आभार. बैंगनी रंग की टी शर्ट पहने कपिल ने यह वीडियो 1983 के अपने साथियों के साथ साझा किया है. उन्होंने कहा, ‘‘मैं उम्मीद कर रहा हूं कि जल्द से जल्द आप लोगों से मुलाकात होगी. मैं आपसे जल्द से जल्द मिलने की कोशिश करूंगा. साल का अंत आने को है लेकिन (अगले साल की) शुरुआत और भी बेहतर होगी. आप सभी को प्यार. कपिल देव की अगुवाई में ही भारत ने 1983 में पहला विश्व कप जीता था.

कपिल देव के लिए सुरेश रैना ने ट्वीट किया औऱ 83 फिल्म के लिए शुभकामनाएं दी.कपिल देव ने साल 1994 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. महान कपिल ने जब संन्यास लिया था तो उस समय वो टेस्ट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे, उनका यह रिकॉर्ड वेस्टइंडीज कॉर्टनी वॉल्श ने तोड़ा था. कपिल ने भारत के लिए 131 टेस्ट और 225 वनडे मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 5248 और 3783 रन भी बनाए हैं.

No comments